जमुई में पंचतत्व में विलीन हुए पूर्व मंत्री नरेंद्र सिंह:बड़े बेटे ने दी मुखाग्नि, राजकीय सम्‍मान के साथ हुआ अंतिम संस्कार

जमुई3 महीने पहले

बिहार के कद्दावर नेता ओर पूर्व मंत्री नरेंद्र सिंह को आज मंगलवार जमुई जिले के किऊल नदी तट के पकरी घाट पर अंतिम विदाई दी गई। यहां पकरी घाट पर पूर्ण राजकीय सम्‍मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। दिवंगत नेता को केंद्रीय मंत्री अश्वनी चौबे ,जमुई विधायक श्रेयसी सिंह,MLC अजय सिंह सहित कई नेताओं ने श्रद्धांजली दिया ओर नरेन्द्र सिंह पंचतत्व में विलीन हो गए। बिहार के कद्दावर नेता और पूर्व मंत्री रहे नरेंद्र सिंह को पूरे राजकीय सम्मान के साथ के जमुई स्थित किऊल नदी के पकरी घाट पर अंतिम संस्कार किया गया।

गार्ड ऑफ ऑनर के बीच नरेंद्र सिंह के बड़े पुत्र और पूर्व जमुई विधायक अजय प्रताप सिंह ने उन्हें मुखाग्नि दी। अंतिम संस्कार के दौरान पकरी घाट पर भारी संख्या में लोग मौजूद थे और ‘नरेंद्र सिंह अमर रहें’ के नारे लगा रहे थे । काफी संख्या में लोग पकरी घाट पर अपने नेता की अंतिम झलक पाने के लिये पहुंचे थे। इससे पहले नरेंद्र सिंह के पार्थिव शरीर को अंतिम यात्रा के लिए उनके पैतृक गांव पकरी में रखा गया। जब नरेंद्र सिंह के पार्थिव शरीर पकरी घाट के लिए निकली तो सभी की आंखें नम हो गई। जमुई के पकरी घाट पर नरेंद्र सिंह के अंतिम संस्कार में केंद्रीय मंत्री अश्वनी चौबे,जमुई विधायक श्रेयशी सिंह के साथ के नेता ओर समंर्धक मौजूद रहे। केंद्रीय मंत्री अश्वनी चौबे ने कहा कि नरेंद्र सिंह जी बिहार ही नहीं, देश के नेता थे, वो एक जन नेता थे।

इससे पहले सोमवार रात नरेंद्र सिंह के पार्थिव शरीर को खैरा इलाके के पकरी गॉव में रखा गया,जहां रात से ही उनके अंतिम दर्शनों के लिए लोगों का हुजूम लगा रहा।

खबरें और भी हैं...