जमुई में 5 बच्चों को मुक्त कराया गया:श्रम अधीक्षक ने की कार्रवाई, शहर के अलग-अलग दुकानों में कर रहे थे काम

जमुई2 महीने पहले

जमुई में सोमवार को झाझा शहर के गैरेजो, दुकानों ओर होटलों में श्रम अधीक्षक पूनम कुमारी ने छापेमारी कर 5 बाल श्रमिकों बच्चों को मुक्त कराया।श्रम अधीक्षक की इस कारवाई से शहर के दुकानदारों, गैरेजो ओर होटल मालिको के बीच हड़कम मच गया।श्रम अधीक्षक ओर झाझा पुलिस ने एक साथ छापेमारी की।

हालांकि, कई प्रतिष्ठानो मे बाल मजदूरी करते एक भी बच्चा नही मिला।लेकिन कई ऐसे दुकान ओर ग़ैरजो में छोटे बच्चे को काम कराया जा रहा था। जिसे मुक्त करा कर मालिको पर प्राथमिकी दर्ज कराया गया।

श्रम अधीक्षक पूनम कुमारी ने बताया कि कुछ दिन पूर्व ही अंतराष्ट्रीय बाल श्रम विरोध दिवस के उपलक्ष्य मे यूनिसेफ के सहयोगी संस्था प्रथम एवं और श्रम अधीक्षक कार्यालय जमुई के संयुक्त तत्वाधान मे बाल मजदूरी की रोकथाम को लेकर जागरूकता अभियान चलाकर लोगो को जागरूक किया गया था।

इसके बावजूद भी शहर के ग़ैरजो ओर दुकानों में काम कराया जा रहा है। उन्होंने बताया कि जमूई DM के निर्देश पर झाझा में अलग अगल दुकानों में छापेमारी कर पाॅच बच्चो को बाल श्रम से मुक्त किया गया।