हादसा:बस चालक ने बाइक सवार दो को रौंदा, शिक्षक समेत दो की गई जान

भभुआ9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पति का शव निहारती पत्नी पास में खड़े तीनों मासूम बच्चे, इनसेट में (फाइल फोटो)  - Dainik Bhaskar
पति का शव निहारती पत्नी पास में खड़े तीनों मासूम बच्चे, इनसेट में (फाइल फोटो) 
  • यूपी के चंदौली जिलांतर्गत सकलडीहा थाना क्षेत्र में हुआ दर्दनाक हादस

दुर्गावती थाना क्षेत्र के नुआंव गांव के शिक्षक समेत दो युवकों की सड़क हादसे में यूपी के सकलडीहा में दर्दनाक मौत हो गई। शुक्रवार शाम सवारी बस यूपी 65 बीटी-8089 सकलडीहा- कमालपुर मार्ग से गुजर रही थी। लोगों ने बताया बस पूरी तरीके से अनियंत्रित होकर चल रही थी। सबसे पहले बस चालक ने आधा दर्जन राहगीरों को ठोंका जिन्हें मामूली चोटें आई,इसके बाद बस चालक ने पुलिस की बैरिकेडिंग को भी तोड़ दिया। फिर बस चालक ने सामने से बाइक सवार को रौंद दिया। यही नहीं बाइक बस के अगले हिस्से में फंस गई, जिसे घसीटते हुए 2 किलोमीटर दूर तक ले गया।

इस हादसे को झेल चुके राहगीरों वह अन्य की मानें तो बस का चालक नशे की हालत में था।दरअसल दुर्गावती के बड़हरा स्कूल के शिक्षक पप्पू पासवान अपने मित्र राजू गुप्ता के साथ शुक्रवार को चंदौली जिला के सकलडीहा थाना के गौसपुर रिश्तेदारी में गए हुए थे। देर शाम जब वे अपने गांव नुआंव लौट रहे थे तभी बस चालक ने दोनों बाइक सवार को रौंद दिया। इस हादसे में नुआंव गांव के 30 वर्षीय राजू गुप्ता की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। जबकि इसी गांव के पप्पू पासवान (शिक्षक) 34 वर्ष ने इलाज के लिए ले जाते समय रास्ते में दम तोड़ दिया।

एक ही गांव के दो युवकों की मौत की खबर असहनीय: एक ही गांव के दो युवकों की मौत की खबर सुन काफी संख्या में ग्रामीण भी पहुंचे। आपको बता दें कि दोनों शादीशुदा हैं और दोनों को तीन तीन बच्चे हैं। बहरहाल शनिवार की सुबह जैसे ही दोनों का शव दोनों के दरवाजे पर पहुंचा तो काफी तादाद में शोकाकुल गांव के लोग भी पहुंचे। वही अपने पति का शव देख पत्नी बिलख रही थी तो सड़क हादसे में जान गंवा बैठे पिता के शव के सामने तीनों मासूम बेजुबान खड़े थे। शायद उन्हे यह भी पता नही होगा की पापा इस दुनिया में नहीं रहे और इनसे कभी मुलाकात भी नहीं होगी।

बस चालक को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है
सकलडीहा थाना पुलिस ने बताया कि सवारी बस यूपी 65 बीटी-8089 नंबर की बस चालक को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। इस हादसे में जान गंवाए कैमूर जिले के दो लोगों का शव कब्जे मे लेकर पोस्टमार्टम कराया गया है। कानूनी प्रक्रिया शुक्रवार की रात पूरी होने के बाद शनिवार को शव उनके परिजनों को सौंप दिया गया। इधर, जैसे ही पप्पू पासवान (शिक्षक) और राजू गुप्ता का शव शनिवार को सुबह 9:00 बजे गांव गांव पहुंचा परिवार में कोहराम मच गया। जबकि ग्रामीण भी शोकाकुल हो गए। गांव के ही दो युवकों की सड़क दुर्घटना में मौत से कई घरों में चूल्हे नही जले। सभी के चेहरे पर गम का साया था।

शिक्षक को सैकड़ों ने दी सोशल साइट पर श्रद्धांजलि
हादसे में शिक्षक की मौत की खबर जैसे ही मिली शुक्रवार देर शाम से लेकर शनिवार को सैकड़ों शिक्षा को सामाजिक लोगों और शुभचिंतकों ने सोशल साइट पर श्रद्धांजलि दी। सभी ने दुर्गावती थाना क्षेत्र के नुआंव गांव के शिक्षक पप्पू पासवान को हर दिल अजीज बताया।

खबरें और भी हैं...