भवन का निर्माण:चार साल से फाइलों में ही अटका रह गया साढ़े छह करोड़ का खेल भवन निर्माण

भभुआ13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
इसी जगह बनना था खेल भवन - Dainik Bhaskar
इसी जगह बनना था खेल भवन

जिला मुख्यालय में साढ़े 6 करोड़ से बनने वाला खेल भवन सरकारी फाइलों में ही अटक कर रह गया है। अब नया पेंच भूमि का फंस हुआ है। जानकारी के मुताबिक सदर प्रखंड कार्यालय परिसर में बहुद्देशीय भवन के सटे खाली जगह में इस भवन का निर्माण होना था। इसके लिए भूमि का चयन भी कर लिया गया था। बताया जा रहा है कि मापी के काम में भूमि कम पड़ रही थी।

तब से निर्माण अटका हुआ है। लिहाजा भवन निर्माण फिलहाल ठंडे बस्ते में पड़ गया है। वही अब तक भूमि को लेकर अड़चन बनी हुई थी। बता दें कि शहर में करीब 4 साल खेल भवन निर्माण की कवायद शुरू हुई थी। भवन निर्माण के लिए 6 करोड़ 51 लाख का डीपीआर भी तैयार कर लिया गया था।

खेल भवन तीन मंजिला बनाए जाने का प्रस्ताव है
खेल पदाधिकारी ओमप्रकाश ने बताया कि उपयुक्त भूमि के लिए इसी जगह बने पुराने भवन की जमीन को मिलाकर खेल भवन का निर्माण होना है। फिर से प्रस्ताव भेजा गया है। पूरी जानकारी जिलाधिकारी के कार्यालय को है। भूमि से संबंधित अड़चने भी दूर कर ली गई है।बताया गया है कि खेल भवन तीन मंजिला बनाए जाने का प्रस्ताव है। इसी भवन में जिमखाना भी संचालित करने की योजना है।

प्रशासनिक सक्रियता से खेल भवन निर्माण का रास्ता साफ हो गया है। खेल एवं व्यायामशाला के नाम से भूमि पंजी 2 में दर्ज कर लिया गई है। बता दें कि प्रस्ताव के बावजूद से अड़चनों से खेल प्रेमियों व खिलाड़ियों में निराशा के भाव है। कई खिलाड़ियों ने कहा कि समुचित संसाधन नहीं होने से जिले में प्रतिभाएं निखर नहीं पा रही है। वरिष्ठ खिलाड़ियों ने मांग करते हुए कहा है कि खेल भवन निर्माण की सभी अड़चनों को दूर कर प्रशासनिक महकमा शीघ्र भवन निर्माण कराए।

खबरें और भी हैं...