लुटेरी दुल्हन ने पति को किया वीडियो कॉल:बोली- मन करेगा तो मैं तुम्हारे पास आऊंगी, मन नहीं करेगा तो नहीं आऊंगी

कैमूर3 महीने पहले

कैमूर की लुटेरी दुल्हन शादी के दो दिन बाद अपने पति को नींद में सुला कर जेवर और नगद रुपए लेकर फरार तो जरूर हो गई, लेकिन अगले दिन वीडियो कॉल कर पति से बात भी की। लुटेरी नई नवेली दुल्हन के पति अमित कुमार ने बताया कि '12 मई की दोपहर पत्नी प्रीति कुमारी घर में रखे जेवर और 30 हजार नकद रुपए लेकर अपने प्रेमी के साथ भाग गई। इसके 24 घंटे बाद मुझे वीडियो कॉल किया और कहा- जब मेरा मन करेगा मैं तुम्हारे पास आऊंगी, मेरा मन नहीं करेगा तो मैं नहीं आऊंगी।'

लड़के के पिता बोले- कर्ज लेकर कराई थी बेटे की शादी; जेवर और कैश भी ले उड़ी

इस घटना के बाद भभुआ थाने में लिखित मुकदमा दर्ज कराया गया है। हालांकि इस मामले में पुलिस लुटेरी दुल्हन के मोबाइल नंबर को सर्विलांस पर रख उसके लोकेशन की जानकारी हासिल करने में जुटी है। जैसे ही पुलिस को लुटेरी दुल्हन का सटीक लोकेशन मिलता है, उसे गिरफ्तार किया जाएगा। दूसरी तरफ प्रीति के माता-पिता से संपर्क साधा गया तो उन्होंने कुछ भी बताने से इनकार कर दिया।

प्रीति के मायके के लोगों ने नाम नहीं छापने की शर्त पर बताया कि प्रीति का किसी के साथ प्रेम था। यही कारण है कि प्रीति प्रेमी के साथ फरार हो गई। यदि उसे प्रेमी के साथ ही जाना था तो उसी के साथ शादी कर लेती। प्रीति की गलती से एक तरफ लड़के वाले की सामाजिक प्रतिष्ठा धूमिल हुई है तो दूसरी तरफ मायका भी बदनाम हुआ है।

दरअसल, जिले के सिवों गांव के महेंद्र प्रसाद ने अपने बड़े बेटे अमित कुमार की शादी कर्ज लेकर बड़े धूमधाम से की थी। विवाह रोहतास जिले के करगहर थाना के गांव बक्सरा के अवधेश प्रजापति की बेटी प्रीति कुमारी से हुई। 9 मई को शादी थी और 10 मई को अमित अपनी दुल्हन ब्याह कर अपने गांव से ले आया।

10 मई को अमित अपनी दुल्हन ब्याह कर अपने गांव से लाया था।
10 मई को अमित अपनी दुल्हन ब्याह कर अपने गांव से लाया था।

30 हजार नकद और लाखों के जेवरात लेकर फरार

दो दिनों तक पति-पत्नी के बीच का रिश्ता ठीक-ठाक रहा, लेकिन तीसरे दिन 12 मई की दोपहर दुल्हन ने अपने पति को नींद में सुला कर घर में रखें 30 हजार नकद और लाखों की जेवरात लेकर फरार हो गई। जेवरात में कान की बाली, मांग टीका, नथ, मंगलसूत्र, पायल और पैजनी थे।

अमित के पिता मनोहर प्रसाद।
अमित के पिता मनोहर प्रसाद।

बाइक सवार के साथ हुई फरार
अमित के पिता मनोहर प्रसाद उस दिन काम करने बाहर गए हुए थे। घर में उनकी पत्नी, बेटा, बहू, पिता और मां थे। दादा ने बताया, 'घटना के दिन वह घर के भीतर सामान इधर-उधर कर रही थी। हमें ऐसा लगा अभी नई-नई आई है, अपने घर का सामान सहेज रही है। जेहन में यह बात भी नहीं थी कि हम सभी की आंखों में धूल झोंक कर दो दिन पहले आई बहू किसी के साथ फरार हो जाएगी।' लुटेरी दुल्हन के पति अमित ने बताया कि बहू घर के बाहर खड़े बाइक सवार के साथ फरार हो गई।