कैमूर में 1.03 लाख की धोखाधड़ी करने वाला बैंककर्मी गिरफ्तार:कैशियर ने जमा करने के लिए दी गई राशि को अपने अकाउंट में कर लिया था डिपोजिट

कैमूर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कैमूर की मोहनिया पुलिस ने जालसाज बैंक कर्मी को उसके पटना स्थित आवास से गिरफ्तार कर गुरुवार को जेल भेज दी। दरअसल मामला यह है कि बीते 10 जनवरी 2022 को मोहनिया की रहने वाली संध्या कुमारी ने ₹103000 अपने बैंक खाते में जमा करने के लिए बैंक ऑफ बड़ौदा शाखा मोहनिया पहुंची। संध्या कुमारी ने बैंक की जमा रसीद पर ₹103000 में पूरा ब्योरा भरकर बैंक कैशियर मोहम्मद आमीर के पास पहुंची, लेकिन बैंक कर्मी मोहम्मद आमीर के मन में लालच समा गया। और उसने ₹103000 की राशि संध्या कुमारी के खाते में न डाल कर अपने निजी खाते में डाल दिया। और बैंक का मुहर लगाकर जमा रसीद संध्या कुमारी को थमा दिया। कुछ दिन बाद संध्या कुमारी अपने बैंक खाते में जमा पैसे का अपडेट कराने गई तो पता चला कि उनके द्वारा जमा किया हुआ ₹103000 खाते में जमा ही नहीं हुआ है। ऐसी स्थिति में उन्होंने इसकी लिखित शिकायत बैंक ऑफ बड़ौदा के शाखा प्रबंधक से की।

लिखित शिकायत मिलने के बाद बैंक ऑफ बड़ौदा के क्षेत्रीय प्रबंधक मनीष कुमार ने मोहम्मद आमीर को नामजद करते हुए मोहनिया थाने में धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कराया। इस मामले में मोहनिया पुलिस ने बुधवार की देर रात मोहम्मद आमीर को पटना स्थित राजा बाजार पटना से गिरफ्तार करके जेल भेज दिया। आपको बता दें कि कुछ ऐसा ही मामला जो करोड़ों में है पहले इलाहाबाद बैंक अब इंडियन बैंक शाखा दुर्गावती से जुड़ा हुआ है। यहां दो दर्जन से अधिक बैंक ग्राहकों का पैसा जो बचत खाते में था या फिर फिक्स डिपाजिट गायब है।