• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Katihar
  • Dead Body Found In Husband's Aunt's House, In laws Including Husband Absconding After Carrying Out The Incident

बिहार में 2 महीने में लव स्टोरी का अंत:कटिहार में भागकर की शादी, शव फंदे पर लटका मिला; सभी फरार

कटिहार2 महीने पहले

कटिहार में प्यार और भगाकर शादी के बाद लड़की का शव फंदे पर लटका मिला। उसका पैर जमीन से टच हो रहा था, जबकि हाथ मेज पर था। शव लड़की के पति की मौसी के घर से मिला है। पति समेत सभी ससुराल वाले फरार हैं।

शव की स्थिति देखकर प्रथमदृष्टया हत्या का मामला लग रहा है। लड़की के परिवार वालों ने ससुराल वालों पर हत्या की एफआईआर दर्ज करने का आवेदन दिया है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है। शव का पोस्टमॉर्टम कराया जा रहा है। पुलिस के मुताबिक रिपोर्ट आने के बाद पूरे मामले का खुलासा हो पाएगा।

कटिहार में 16 वर्षीय नाबालिग युवती का शव परिजनों ने उसके पति के मौसी के घर से बरामद किया।
कटिहार में 16 वर्षीय नाबालिग युवती का शव परिजनों ने उसके पति के मौसी के घर से बरामद किया।

घटना तेलता ओपी क्षेत्र के बालूगंज गांव में घटी। जिसका शव मिला है वह बालूगंज गांव निवासी चमन नुरी की है। उसके भाई इस्माइल राजा ने बताया कि 2 माह पूर्व उसकी बहन को कुम्हड़ा गांव निवासी 26 वर्षीय मो इकबाल ने प्रेम के जाल में फंसाकर घर से लेकर फरार हो गया था।

अज्ञात फोन आया कि बहन की मौत हो गई है

इस्माइल ने बताया कि मैंने अपनी बहन की काफी खोजबीन की। बाद में हमे पता चला कि इकबाल मेरी बहन को लेकर दिल्ली चला गया। शुक्रवार सुबह बालूगंज गांव से मुझे किसी अज्ञात व्यक्ति का फोन आया। उसने बताया कि मेरी बहन की मौत हो गई। जानकारी मिलने के बाद हम सभी जब बालूगंज गांव पहुंचे तो वहां उन्होंने देखा कि मेरी बहन की बॉडी फंदे से लटका हुआ है। पैर जमीन पर सटा हुआ।

पति समेत सभी फरार

वहीं, घर के सभी लोग फरार थे। लड़की के परिवार वालों ने इसकी जानकारी पुलिस को दी गई। पुलिस घटनास्थल पर पहुंचकर शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। वहीं परिजनों के फर्द बयान दर्ज कर जांच में जुट गई। घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची। जहां शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया है।

ऐसे मामलों में कैसे पता करते हैं कि हत्या है या आत्महत्या

पोस्टमार्टम करने वाले एक्सपर्ट डॉक्टरों के मुताबिक अगर किसी ने खुद फांसी लगाई है, तो गले के साइड और सामने की तरफ रस्सी के निशान मिलेंगे। वहीं अगर गला दबाकर हत्या की गई है, तो गले के बाहर निशान आएंगे, रस्सी के निशान नहीं आएंगे। यदि कोई दूसरा व्यक्ति किसी को गला दबाकर मारता है, तो हड्डी अधिक क्रेक होती है।

जमीन से कितने ऊपर हवा में थे पैर

एक्सपर्ट डॉक्टरों का कहना है कि फांसी लगाने के लिए कोई भी व्यक्ति स्टूल, टेबल या किसी अन्य वस्तु पर खड़ा होकर अपने गले में फंदा डालता है। और फिर अपने हाथ भी बांध लेता है। क्योंकि जैसे ही दम घुटेगा तो रस्सी न पकड़ सके। इस मामले में चमन नूरी का पैर जमीन से टच हो रहा था। उसके हाथ भी नहीं बंधे थे और हाथ मेज पर रखा था। प्रथम दृष्टा हत्या का शक ज्यादा है। फिलहाल पीएम रिपोर्ट आने के बाद इसका खुलासा होगा।