कटिहार में JDU कार्यकर्ता की पत्नी का मर्डर:बच्चों ने कहा- बड़े चाचा ने पीट-पीटकर मार डाला; नल जल योजना का पानी बना विवाद

कटिहारएक महीने पहले
घटनास्थल पर लगी लोगों की भीड़।

कटिहार में मंगलवार की देर रात्रि फलका थाना क्षेत्र के मघेली पंचायत अंतर्गत बड़ी चातर नहर टोला गांव में आपसी मतभेद के कारण जदयू कार्यकर्ता अब्दुल सत्तार की 34 वर्षीय पत्नी नगमा भारती की मारपीट व गला दबाकर उनकी निर्मम हत्या कर दी गयी। घटना को लेकर आक्रोशित ग्रामीणों ने सूचना के बाद मौके पर पहुंची स्थानीय पुलिस को घंटो तक बंधक बनाकर रखा। थानाध्यक्ष सहित पुलिस बल को आक्रोशित ग्रामीणों का कोपभाजन का शिकार होना पड़ा।

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार उग्र भीड़ से पुलिस की हाथापाई भी हुई है। हंगामा देख आरोपी घर छोड़ कर फरार बताया जाता है। आक्रोशित ग्रामीण व परिजन एसपी और डीएम को घटना स्थल पर बुलाने की मांग कर रहे थे। फलका थाना को दिये आवेदन में मृतक के पति अब्दुल सत्तार ने बताया कि मंगलवार को वे एक शादी में कटिहार गये हुए थे। बुधवार सुबह जब वह अपने घर पहुंचे तो अपनी पत्नी नगमा भारती को मृत अवस्था में पाया। उन्होंने आगे बताया कि मृतक के गले में दुपट्टा लपेटा हुआ था और शरीर पर कई जगह जख्म का निशान भी था। घर में मौजूद बच्चों ने बताया कि उनके बड़े चाचा वजीर साह व अन्य ने मिलकर उनकी मां की पीट- पीट और गला दबाकर हत्या कर दिया है।

घटनास्थल पर लगी लोगों की भीड़।
घटनास्थल पर लगी लोगों की भीड़।

मोहम्मद सत्तार ने बताया कि विवाद का कारण उनके घर के आगे मुख्यमंत्री जल नल योजना के तहत लगे पानी टंकी से जल बहाव बताया है। उन्होंने आगे बताया कि उक्त टंकी के केयर टेकर पद के रूप उनकी पत्नी नगमा भारती बहाल थी। पानी फिल्टर सफाई के दौरान कुछ पानी बड़े भाई के आंगन में प्रवेश कर जाता था। उसको लेकर एक माह पूर्व में भी बुरी तरह मारपीट का कांड दर्ज करवाए थे। लेकिन पुलिस द्वारा कोई कार्रवाई नहीं किया जिस कारण आज इतनी बड़ी घटना को अंजाम दे दिया।

आज बुधवार को करीब 12 बजे तक उग्र भीड़ ने शव उठने नहीं दिया था। उग्र भीड़ एसपी और डीएम के मांग के साथ साथ आरोपी को गिरफ्तारी के मांग पर अड़े हुए थे। हालांकि थानाध्यक्ष उमेश पासवान और स्थानीय मुखिया प्रतिनिधि भीड़ को समझा-बुझाकर मामला शांत कराया।