आवागमन बाधित:दो प्रखंडों को जोड़ने वाली जर्जर सड़क का 5 वर्षाें से मरम्मत नहीं, जलमग्न

हसनगंज2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सड़क पर बाढ़ का पानी, जिसमें स्नान करते बच्चे। - Dainik Bhaskar
सड़क पर बाढ़ का पानी, जिसमें स्नान करते बच्चे।

हसनगंज और कोढ़ा प्रखंड को जोड़ने वाली जर्जर सड़क पर बरसात के दिनों में भारी जलजमाव रहने के कारण दोनों प्रखंडों के लोगों को एक से दूसरे प्रखंड में जाने के लिए 4 किमी के बदले 12 किमी तय करना पड़ रहा है। भसना चांपी नदी के बढ़ते जलस्तर से हसनगंज प्रखंड से कोढ़ा प्रखंड को जोड़ने वाली इस सड़क पर फिलहाल आवागमन बाधित हो गया है।

वर्ष 2017 की बाढ़ से ध्वस्त सड़क के डायवर्सन पर नदी का पानी चढ़ गया है, जिससे सड़क पर चार पहिया वाहनों का आवागमन बंद हो गया है। डायवर्सन पर पानी चढ़ने से दोपहिया वाहन चालकों को कीचड़ और जलजमाव झेलते हुए आवागमन करना पड़ रहा है।

राजवाड़ा और रौतारा पंचायत के कई लोगों का एलपीजी गैस कनेक्शन हसनगंज में है। ऐसे में नदी के जलस्तर के बढ़ने से लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। सड़क पर नदी का पानी आने से लोगों को 4 किलोमीटर की दूरी के बदले अब भसना चौक होते हुए 12 किलोमीटर की लंबी दूरी तय कर हसनगंज जाना होता है।

2017 की बाढ़ में ध्वस्त सड़क की कई बार मापी भी की गई। जनप्रतिनिधियों ने जल्द सड़क मरम्मत करवाने का आश्वासन भी दिया। लेकिन पांच वर्ष के लंबे अंतराल के बावजूद आज तक इस महत्वपूर्ण सड़क की मरम्मत की दिशा में पहल नहीं की गई।

खबरें और भी हैं...