सुनवाई:राष्ट्रीय लोक अदालत में कुल 669 मामलों का हुआ निष्पादन

खगड़िया14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
राष्ट्रीय लोक अदालत का उद्घाटन करते जिला जज एवं अन्य पदाधिकारी। - Dainik Bhaskar
राष्ट्रीय लोक अदालत का उद्घाटन करते जिला जज एवं अन्य पदाधिकारी।
  • न्यायपीठ में अधिवक्ताओं की जगह लगाए गए थे न्यायिक पदाधिकारी

बिहार राज्य विधिक सेवा प्राधिकार के निर्देश पर जिला विधिक सेवा प्राधिकार खगड़िया द्वारा खगड़िया एवं गोगरी व्यवहार न्यायालय मंडल में शनिवार को राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया गया। इस राष्ट्रीय लोक अदालत में शनिवार को कुल 669 मामलों का निष्पादन आपसी समझौता के आधार पर किया गया। जिसमें 36 करोड़ 20 लाख 4 हजार 5 सौ 95 रुपए की राशि पर समझौता हुआ। राष्ट्रीय लोक अदालत में उत्पाद बाद से संबंधित भी कुल 16 मामले निष्पादित हुए। जिसमें आरोपी ने 40,000 रुपए दंड की राशि जमा की है। इस मौके पर एडीआर बिल्डिंग में जिला एवं सत्र न्यायाधीश कुमुद रंजन सिंह के द्वारा कार्यक्रम का उद्घाटन दीप प्रज्वलित कर किया गया। उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए जिला जज ने कहा कि राष्ट्रीय लोक अदालत के माध्यम से न्यायालय पर बढ़ रहे मुकदमों के बोझ को कम किया जा सकता है। यह कार्यक्रम कल्याणकारी एवं गरीबों के हित में है। उन्होंने आम आदमी से आह्वान किया कि इस कार्यक्रम का भरपूर लाभ उठाएं। जिला विधिक सेवा प्राधिकार के सचिव सम्रेंद्र गांधी के अनुसार मामलों के निष्पादन के लिए नौ न्याय पीठ की स्थापना की गई। जिसमें न्यायिक पदाधिकारी प्रमोद कुमार यादव, ओमशंकर, नंदकिशोर, बिभा रानी, सतीश मणि त्रिपाठी, उमा कुमारी, अलका राय, इंजमामूल हक, संतोष कुमार दुबे, मो सरवर अंसारी, रवि रंजन, आदित्य प्रकाश, तेज नारायण कुमार, अनुराग, पल्लवी आनंद एवं आदित्य कुमार सुमन को अलग-अलग बेंच में पीठासीन अधिकारी प्रतिनियुक्त किया गया। उक्त दो बेंच में सामाजिक कार्यकर्ता सीमा एवं प्रफुल्ल कुमार वर्मा को प्रतिनियुक्त किया गया।

खबरें और भी हैं...