खगड़िया में महिला सिपाही का हाईवोल्टेज ड्रामा:थाना के मुंशी पर छेड़खानी का आरोप लगाकर किया गाली गलौज, देख लेने की दी धमकी

खगड़िया5 महीने पहले
खगड़िया में महिला सिपाही का हाईवोल्टेज ड्रामा

खगड़िया जिले के महेशखूंट थाना में एक महिला सिपाही का हाईवोल्टेज ड्रामा का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। महिला सिपाही द्वारा थाना के एक मुंशी को गाली गलौज और देख लेने की बात कही जा रही है। थाना परिसर स्थित मुंशी के आईटी कक्ष के गेट में धक्का मारा जा रहा है। लेकिन सभी पुलिस जवान मूक दर्शक बनकर देख रहा है ।

लोगो का कहना है जब थाना में ही ऐसा हड़कत होगा तो अन्य लोगों पर क्या कार्रवाई करेंगे। एक तरफ महिला सिपाही का आरोप है रात के अंधेरे में मुंशी द्वारा कमरा में घुसकर छेड़छाड़ किया गया। जब महिला सिपाही थाना के अंदर सुरक्षित नहीं है तो पुलिस अन्य महिला क्या होगा। सभी बिंदु पर गोगरी डीएसपी जांच कर रहे हैं। फिलहाल जांच के बाद स्पष्ट हो सकेगा।

क्या है पूरा मामला

मालूम हो कि महेशखूंट थाना में पदस्थापित पूर्णिया जिले के मुफफसिल थाना क्षेत्र के एक गॉव की महिला सिपाही ने थाना की मुंशी अजय सिंह पर पहले छेड़छाड़ करने का आरोप लगाया था। जिसके बाद पुलिस ने महिला सिपाही के बयान पर मुंशी के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज गिरफ्तार कर लिया गया। जिसे न्यायिक हिरासत में भी भेज दिया गया। महिला सिपाही ने आवेदन में मुंशी पर आरोप लगाया कि 20 जून को कमरा में घुसकर अहले सुबह 3.30 बजे गलत नियत से शारीरिक छेड़छाड़ करने की कोशिश किया।

कहा कि बचने की काफी कोशिश किया और हल्ला भी किया, लेकिन कोई नहीं बचाने पहुँचा । कहा कि इसी दौरान मुंशी अजय सिंह ने कमरा का गेट बाहर से बन्द कर दिया। जिसके बाद महिला सिपाही थानाध्यक्ष को घटना की जानकारी दी। थानाध्यक्ष ने त्वरित कार्रवाई करते हुए मुंशी के विरुद्ध प्राथमिकी दर्जकर न्यायिक हिरासत में भेज दिया। फिर महेशखूंट थाना में पदस्थापित मुंशी गोपालगंज जिले के बिजुलपुर गॉव निवासी अजय कुमार सिंह ने थाना में पदस्थापित पूर्णिया जिले के मुफ़्सील थाना क्षेत्र के एक महिला सिपाही और उसकी माँ के विरुद्ध मारपीट, गाली गलौज और जेब से 2 हजार रुपया निकालने का महेशखूंट थाना में ही प्राथमिकी दर्ज कराया।

मुंशी ने कहा कि बीते 20 जून को भारत बंद को लेकर सुबह 5 बजे वरीय अधिकारी के निर्देश पर महिला सिपाही को जगाने गए थे। इसी दौरान महिला सिपाही डंडे लेकर गाली गलौज और मारपीट करने लगा। इसी दौरान उसकी मां भी भद्दी भद्दी गाली देने लगी और जेब मे रखे 2 हजार रुपया निकाल ली। इसी दौरान नौकरी से हटाने और छेड़छाड़ करने के आरोप में जेल भेजने की धमकी भी देने लगी। थानाध्यक्ष नीरज कुमार ने बताया कि महिला सिपाही के आवेदन पर मुंशी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। मुंशी अजय द्वारा भी महिला सिपाही के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई गई। मामले की जांच की जा रही है।