खगड़िया में तेजी से फैल रहा नकली दवाइयों का धंधा:पटना के 3 कारोबारी थे इसके मास्टरमाइंड; ड्रग इंस्पेक्टर की छापेमारी में 5 लाख की नकली दवाइयां बरामद

खगड़िया8 दिन पहले
खगड़िया में तेजी से फैल रहा नकली दवाईयों का धंधा।

खगड़िया में नकली दवाईयों के कारोबार का खुलासा हुआ है। इसके साथ ही पांच लाख रुपए मुल्य के 80 प्रकार की नकली दवा और इंजेक्शन बरामद किया गया है। वहीं इस मामले में पटना के तीन कारोबारी सहित स्थानीय दो सप्लायर के विरुद्ध न्यायालय में शिकायत दर्ज कराई गई है। मामला जिले के परबत्ता प्रखंड स्थित पिपरालतीफ गांव की है। जहां मोहम्मद लियाकत अली के मकान में नकली दवाईयों का स्थानीय सप्लायर व परबत्ता प्रखंड के जानकीचक निवासी स्व उमेश मिश्र के पुत्र अजय कुमार मिश्र ने नकली दवाईयों को भंडार कर रखा था। जिसकी सूचना औषधि निरीक्षक ( ड्रग इंस्पेक्टर) दीपक राम को मिली तो उन्होंने स्थानीय पुलिस के सहयोग से उक्त जगह पर छापेमारी कर नकली दवाईयों के इस अवैध कारोबार का खुलासा किया। बताया जाता है कि वहां एक पैथाॅलाजी के आड़ में लंबे समय से नकली दवाइयों के सप्लाई का काला धंधा चल रहा था।

पटना के जीएम रोड से खगड़िया पहुंचती थी नकली दवाईयों की खेप

ड्रग इंस्पेक्टर ने बताया कि मड़ैया में पकड़े गए नकली दवाईयों के संबंध में छानबीन की गई। जिसमें सामने आया कि पटना के जीएम रोड स्थित उदय पैलेस में संचालित श्वेता फार्मा, शैलेश मेडिको और ओम सर्जिकल नामक दवा कारोबारी के यहां से अवैध तरीके से नकली दवाइयां उपलब्ध कराया जाता था। जिसे स्थानीय सप्लायर के तौर पर अजय कुमार मिश्र इलाके के फर्जी नर्सिंग होम और गांव में संचालित ग्रामीण चिकित्सकों को उपलब्ध कराता था। उन्होंने बताया कि मामले में पांच लोगों के विरुद्ध न्यायालय ने शिकायत दर्ज की गई है। इसके साथ न्यायालय को सीज किए गए दवाईयों की लिस्ट भी उपलब्ध कराया गया है।

- खगड़िया में आसानी से फल फूल रहा है फर्जी नर्सिंग होम और नकली दवाईयों का काला धंधाबताते चलें कि खगड़िया शहर के अलावा विभिन्न जगहों पर फर्जी नर्सिंग होम और नकली दवाईयों का काला धंधा आसानी से फल फूल रहा है। बताया जाता है कि बीते दिनों मड़ैया के जिस फर्जी नर्सिंग होम में गर्भपात कराने से एक महिला की मौत हुई थी, वहां भी नकली दवाइयां और नकली इंजेक्शन का उपयोग किया जाता था। जिसकी जानकारी मिलने पर ड्रग इंस्पेक्टर ने सप्लायर के ठिकाने पर छापेमारी कर इसका खुलासा किया है।