बेटी के सामने मां को पीटकर छत से फेंका, मौत:खगड़िया में मासूम गिड़गिड़ाती रही, नहीं माने बड़े पापा; दीवार को लेकर था विवाद

खगड़िया3 महीने पहले

खगड़िया में छत की दीवार को ऊंचा करने के विवाद में जेठ और जेठानी ने पहले महिला के साथ मारपीट की। इसके बाद उसकी 10 साल की बच्ची के सामने उसे छत से फेंक दिया। गंभीर हालत में महिला का अस्पताल में इलाज चला। इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

मामला नगर थाना क्षेत्र के विश्वनाथ गंज का है। महिला की बेटी ने बताया कि मेरे सामने बड़े पापा और मम्मी मां के साथ मारपीट कर रहे थे। मैंने छुड़ाने की कोशिश की। मुझे धक्का दिया। गालियां दे रहे थे। इसके बाद एकदम से मां को उठाया और छत से नीचे फेंक दिया। 21 जून को इलाज के दौरान निवासी मो. इम्तियाज की 30 वर्षीय पत्नी शबनम खातून की इलाज के दौरान मौत हो गई।

पोल में हिस्सा लेकर अपनी राय दीजिए...

छत की दीवार को लेकर हुआ था विवाद

मृतका की 10 वर्षीय बेटी लाडली ने बताया कि बीते 17 जून को बड़े पापा और मम्मी के बीच छत की दीवार को लेकर विवाद हुआ था। फिर रात के 10 बजे बड़े पापा इख्तियार सहित परिवार के सभी सदस्यों ने मम्मी के साथ बुरी तरह मारपीट शुरू कर दी।

परिवार के सभी सदस्यों ने मम्मी को बचाने की कोशिश की। उस दौरान मैं भी मम्मी को बचाने की कोशिश की। मम्मी को बचाने के लिए काफी रोई और चिल्लाई, लेकिन सभी लोगों ने मुझे वहां से जबरदस्ती हटा दिया।

मेरी आंखों के सामने मम्मी के साथ मारपीट के दौरान बड़े पापा ने नवनिर्मित भवन के छत से उन्हें नीचे फेंक दिया। मम्मी 15 फीट छत से नीचे गिरने पर बुरी तरह जख्मी हो गई। इसके बाद काफी चिल्लाने के बाद स्थानीय लोगों की मदद से अस्पताल में भर्ती कराया गया।

मायके वाले बोले- पैसे नहीं देने पर मार डाला

इधर, मृतका के मायके वालो ने आरोप लगाया कि बीते 15 दिन से विश्वनाथगंज स्थित घर पर पक्का करने को लेकर काम चल रहा था। इसीलिए दहेज के रूप में रुपए का डिमांड किया जा रहा था। शबनम द्वारा रुपया नहीं देने पर एक सप्ताह से मारपीट और गाली गलौज की जाती थी। वहीं, पुलिस दो लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।