कोसी का जलस्तर बढ़ा तो खगड़िया में तबाही!:ठेकेदार की लापरवाही की वजह से काम पूरा नहीं हुआ, कोसी का जलस्तर बढ़ने पर खतरा

खगड़िया2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

खगड़िया जिले में ठेकेदारों के लापरवाही की वजह से अब तक बांध का चौड़ीकरण व उंचीकरण का कार्य पूर्ण नहीं किया जा सका है। जिसके कारण इस बार खगड़िया में कोसी का जलस्तर बढ़ा तो भारी तबाही ला सकती है। जिसके कारण जिले आधे आबादी को बाढ़ अपने चपेट में ले सकता है। जिसमें कई प्रखंड के लोग प्रभावित होंगे। और जान माल का नुकसान होगा। मामला जिले के बदला करांची तटबंध पर अलौली से अमनी मुसहरी गांव तक बांध को चौड़ीकरण व उंचीकरण कार्य में लापरवाही का है।

बदला करांची तटबंध के अलौली से अमनी मुसहरी तक के 21 किलोमीटर बांध को 15 जून तक उंचीकरण व चौड़ीकरण का कार्य पूर्ण करना था। लेकिन अब तक में मात्र 5 किलोमीटर ही कार्य पूर्ण कर पाया है। शेष कार्य 40 दिनों में 16 किलोमीटर की बांध का पूरा करना है, जो असंभव है। यह समस्या दो ठेकेदारों के बीच विवाद में खगड़िया के लोगों को बाढ़ का प्रलयकारी रूप देखने को मिल सकता है। मिली जानकारी के अनुसार सरकार द्वारा बीएससीपीएल कंपनी को हायाघाट दरभंगा से सोनवर्षा तक 106 किलोमीटर बांध को चौड़ीकरण व उंचीकरण कार्य करने का दायित्व सौंपा गया है।

लेकिन बीएससीपीएल कंपनी से बदला करांची तटबंध के अलौली से अमनी तक 21 किलोमीटर की बांध को एपेक्स कंपनी कांटेक्ट पर दिया। जो अब तक में बांध का मात्र 5 मिलोमीटर ही कार्य पूर्ण कर सका है। जबकि सरकार द्वारा बीएससीपीएल कंपनी निर्धारित तिथि 15 जून 2022 तक दिया गया था। इसी बीच बीएससीपीएल कंपनी व एपेक्स कंपनी के बीच 35 करोड़ रूपये के लेने देन के कारण विवाद हो गया। विवाद के बाद मामला मोरकाही थाना तक पहुंच गया।

यहां बीएससीपीएल कंपनी ने एपेक्स कंपनी के एडमीन इंचार्ज के पांच कर्मियों पर कार्य में ब्यवधान डालने का प्राथमिकी बीते 9 अप्रैल को दर्ज करवा दिया। जिसके बाद सदर जल संसाधन विभाग के एसडीओ व जेई मौके पर पहुंचकर कार्य को सुचारू से करने को कहा। फिर बीते एक सप्ताह से कार्य ठप पड़ा हुआ है।

खबरें और भी हैं...