व्रत:व्रतधारियों ने 42 घंटे तक किया निर्जला उपवास, श्रद्धापूर्वक पर्व मनी जितिया पर्व

बहादुरगंज/ पोठिया19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

पुत्र की दीर्घायु के लिए मनाया जाने वाला पर्व जितिया यहां बहादुरगंज प्रखंड में श्रद्धा एवं भक्ति भावपूर्वक मनाया गया। कठोर निर्जला व्रत के बाद रविवार को पारण के साथ श्रद्धालु महिलाएं पर्व का समापन की। व्रतधारियों द्वारा शुक्रवार को नहाय खाय के साथ शनिवार को निर्जला व्रत रखा गया तथा पूजा अर्चना किया गया। इस बार जितिया पर्व काफी कठोर व्रत के साथ पूरा किया गया। जहां श्रद्धालु लगभग 42 घंटे के कठोर निर्जला व्रत के साथ सम्पन्न किया। शुक्रवार को नहाय खाय के साथ शनिवार से ही उपवास शुरू की और रविवार को संध्या चार बजे के बाद पारण किया गया। अलग-अलग पंचांग की तिथि के अनुसार इस बार व्रतधारियों में उहापोह की स्थिति बनी रही। जिसकारण अलग-अलग तिथियों में लोगों ने पर्व को सम्पन्न किया। जितिया पर्व में कहीं महिलाओं ने डाला सजाकर तो कही मिट्टी की हांडी लेकर जितिया पर्व सम्पन्न की। वहीं पोठिया अश्विन मास के कृष्णपक्ष की अष्टमी तिथि को मनाया जाने वाला तीन दिवसीय जीवित्पुत्रिका जिउतिया व्रत रविवार संध्या पांच बजे पारन के साथ सम्पन्न हो गया। महिलाओं ने अपने पुत्र की सुरक्षा, दीर्घायु, सदा आरोग्य, उज्जवल भविष्य की कामना हेतु शनिवार सुबह ओडगन से प्रारम्भ जितिया निर्जला पर्व बड़े ही हर्षोल्लासके साथ मनाया। जिसका पारण रविवार संध्या पांच बजे कर व्रत का समापन किया। प्रखंड क्षेत्र के सभी 22 पंचायतों में महिलाओं ने जिउतिया पर्व निर्जला व्रत रखकर किया। इस दौरान सम्पूर्ण रात्रि गाँवो में व्रतियों द्वारा कीर्तन भजन भी चलता रहा।

खबरें और भी हैं...