पर्व:सादगी के साथ मनाया चेहल्लुम

गलगलिया17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
गांधी चौक पर सुरक्षा में तैनात एसडीपीओ व अन्य। - Dainik Bhaskar
गांधी चौक पर सुरक्षा में तैनात एसडीपीओ व अन्य।

कर्बला की जंग में अपने 72 साथियों के साथ शहीद हुए नवासा-ए-रसूल इमाम हुसैन और शहीदाने करबला की याद में मनाया जाने वाला चेहल्लुम (चालीसा) शनिवार को गलगलिया में सादगी के साथ मनाया गया। इस्लामिक वर्ष के पहले माह मोहर्रम की 10 तारीख को कर्बला की जंग में नवासा- ए-रसूल इमाम हुसैन को शहीद कर दिया गया था। फातिमा के लाल की खता ये थी कि उन्होंने जालिमों के जुल्म और जब्र के आगे सर कटाना गवारा किया, लेकिन सर झुकाना नहीं। इसी क्रम में शहादते हुसैन के 40 दिन पूरे होने पर मुसलमानों द्वारा चेहल्लुम (चालीसा) मनाया जाता है। इमाम अहमद रेजा जामे मस्जिद छोटा बांसमुनि के मौलाना मिर्जा गालिब नक्शबंदी ने बताया कि मोहर्रम माह के दसवीं तारीख को यजीद के सैनिकों ने कूफ़ा के कर्बला मैदान में हजरत इमाम हुसैन को नमाज पढ़ते वक्त शहीद कर दिया था। इसी वजह से मोहर्रम के दशमी को पहलाम मनाया जाता है। उस दिन लोग रोजा, कसरत से नमाज और कुरान शरीफ की तिलावत करते हैं। पहलाम के 40 दिन पूरे होने पर चेहल्लुम (चालीसा) पर्व मनाया जाता है। यह पर्व बुराई पर अच्छाई की प्रतीक है। इस दिन न केवल भारत बल्कि संपूर्ण विश्व में चेहल्लुम (चालीसा) का आयोजन किया जाता है। चेहल्लुम मुसलमानों के कैलेंडर के मुताबिक सफर के महीने की 20वीं तारीख को पड़ता है। साथ ही उन्होंने बताया कि इस दिन मुसलमानों द्वारा हजरत इमाम हुसैन के नाम पर घर-घर नियाज, फातिहा, मिलाद, कुरानखानी, कराई जाती है। कहीं-कहीं जुलूस भी निकाली जाती है।

चेहल्लुम को लेकर शहर में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम

किशनगंज | शहादत का पर्व चेहल्लुम को लेकर रविवार को शहर में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम रहे। चेहल्लुम को लेकर लोगों ने ताजिया के साथ जुलूस निकाला था। सुरक्षा को लेकर सभी चौक चौराहों में मजिस्ट्रेट के साथ पुलिस बल की प्रतिनियुक्ति की गई थी। सुरक्षा व्यवस्था की मॉनिटरिंग एसडीपीओ अनवर जावेद अंसारी कर रहे थे। जुलूस को लेकर सौदागर पट्टी रोड में अस्थायी कंट्रोल रूम बनाया गया था। जहां से शहर की निगरानी बरती जा रही थी। जुलूस वाले मार्गों में भी पुलिस बल की प्रतिनियुक्ति की गई थी। एसडीएम अमिताभ कुमार गुप्ता, एसडीपीओ अनवर जावेद अंसारी के साथ प्रशासन व पुलिस के अधिकारी सुरक्षा व्यवस्था में मौजूद रहे। एसडीएम व एसडीपीओ गांधी चौक से सौदागर पट्टी, कर्बला जाने वाले मार्ग में मुस्तैद थे। प्रशासन व पुलिस के अधिकारी 11 बजे सुबह से ही शहर का मुआयना कर रहे थे। वही डीएम श्रीकांत शास्त्री व एसपी डॉक्टर इनामुल हक मेगनु अपने कनीय अधिकारियों से पल पल की स्थिति की जानकारी ले रहे थे।

खबरें और भी हैं...