फर्जीवाड़ा का मामला:फर्जी हस्ताक्षर से 16 लाख की ठगी

लखीसराय13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • एसीएमअो के हस्ताक्षर से यूडीआईडी केंद्र देने के नाम पर की धोखाधड़ी

लखीसराय जिले में यूडीआईडी केन्द्र का संचालन करने के नाम पर फर्जीवाड़ा करने का मामला प्रकाश में आया हैं। इस मामले में पीड़ित ने डीएम एवं सीएस को आवेदन देकर मामले की जांच कर कार्रवाई करने की मांग की है। ठगी के शिकार मेघरायनगर विद्यापीठ चौक निवासी अशोक कुमार सिंह के पुत्र रवि कुमार ने बताया कि आइडीएसपी कार्यालय के डाटा इंट्री अॉपरेटर पद पर पदस्थापित तेतरहाट थाना क्षेत्र के शरमा निवासी जयकांत सिंह के पुत्र सौरभ कुमार पर जिले के सभी प्रखंड में यूआइडीआइ केंद्र संचालित करने के नाम पर 16 लाख 27 हजार रुपये ठगी कर ली। इतना ही नहीं सौरव ने एसीएमओ के फर्जी हस्ताक्षर से सभी प्रखंडों में यूडीआइडी केंद्र संचालित करने के लिए पंजीयन नंबर का पत्र भी जारी कर दिया। सौरभ कुमार के झांसे में आकर उसने जिले के सातों प्रखंड में यूआइडीआइ केंद्र संचालित करने के लिए कुल 16 लाख 27 हजार रुपये उसे दे दिया। सभी प्रखंड मुख्यालय में सारी सुविधाओं से लैस कार्यालय भी खोला है। कार्यालय के रंग-रोगन पर 60 हजार रुपये खर्च हुआ है। इसका रसीद भी साैरभ कुमार को उपलब्ध कराया गया है। इस तरह कुल 16 लाख 87 हजार रुपये ठगी कर ली गई है। इसके बाद डाटा इंट्री आपरेटर ने उससे योग्यता प्रमाण पत्र की मांग की। इसके बाद नया टोला हसनपुर के कुमार विनय के पुत्र मणिकांत कुमार का योग्यता प्रमाण पत्र उपलब्ध कराया।

खबरें और भी हैं...