यात्री परेशान:बड़हिया में ट्रेनों के ठहराव की मांग को लेकर रेल चक्का जाम, छह ट्रेनें रद्द, 12 का बदला गया रूट

बड़हियाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
रविवार को बड़हिया स्टेशन पर लाल झंडा लगाकर ट्रेन रोकते आंदोलनकारी। - Dainik Bhaskar
रविवार को बड़हिया स्टेशन पर लाल झंडा लगाकर ट्रेन रोकते आंदोलनकारी।
  • आंदोलनकारियों ने डीएम व एडीआरएम की नहीं मानी बात, कहा-जब तक मांगे पूरी नहीं होगी जारी रहेगा धरना
  • मालदा से पटना और बांका इंटरसिटी के परिचालन को भी देर रात रेलवे ने रद्द कर दिया

पूर्व मध्य रेलवे दानापुर मंडल अंतर्गत किऊल-मोकामा रेल खंड के बीच अवस्थित 4 लाख के आबादी वाले बड़हिया स्टेशन पर गाड़ियों का पूर्ववत ठहराव की मांग को लेकर पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार रविवार को बड़हिया रेल संघर्ष समिति के द्वारा सुबह 7 बजे से बड़हिया स्टेशन परिसर में धरना शुरू किया गया। धरना को सफल बनाने के लिए बड़हिया बाजार के दुकानदारों व बड़हिया प्रखंड के सभी पंचायतों के बुजुर्ग, युवा सहित सैकड़ों ग्रामीण शामिल हुए। आंदोलनकारियों ने 10 बजे बड़हिया स्टेशन पर अप एवं डाउन लाइन की पटरी पर लाल झंडा लगाकर हटिया पाटलिपुत्र ट्रेन को रोक दिया। इसके बाद आप एवं डाउन लाइन में ट्रेन परिचालन बाधित हो गया। चक्का जाम करने की वजह से रेलवे को कुल 6 ट्रेनों को रद्द करना पड़ा जबकि 12 के रूट में बदलाव कर परिचालन कराया गया। वहीं बड़हिया स्टेशन पर सुरक्षा को लेकर सुबह से ही दर्जनों महिला व पुरुष पुलिस जवान के साथ मजिस्ट्रेट की प्रतिनियुक्ति की गई थी। रविवार को आंदोलनकारियों के आह्वान पर बड़हिया बाजार की दुकानें भी बंद रही। ट्रेनों को रोके जाने से इसमें सवार यात्रियों को रेल संघर्ष समिति के द्वारा पानी व सत्तू पिलाया गया।

‘आश्वासन से अब काम नहीं चलेगा’

ट्रेन परिचालन बाधित होने के सूचना पर एसडीएम संजय कुमार व एएसपी सैयद इमरान मसूद पहुंच कर अनशनकारियों से मिले ओर कहा कि पाटलिपुत्र ट्रेन का ठहराव दे दिया गया है। ट्रेनों को जाने दें। इसके बाद अनशनकारियों ने एक भी बात नहीं मानी और कहा कि जब तक सभी ट्रेनों का ठहराव का लेटर जारी नहीं किया जाएगा तब तक आंदोलन जारी रहेगा। कुछ देर के बाद डीएम संजय कुमार व एसपी पंकज कुमार एवं एडीआरएम बिभी गुप्ता पहुंचे और आंदोलनकारी से मिलकर बात करनी चाहिए लेकिन ग्रामीण एक भी बात नहीं सुनी। आंदोलनकारियों ने कहा कि आश्वासन पर काम नहीं चलेगा। जब तक मांग पूरी नही होगी तब तक प्रदर्शन जारी रहेगा।

गया के रास्ते रवाना हुई कामाख्या-दिल्ली ब्रह्मपुत्र मेल

बड़हिया में जाम के चलते किऊल से ट्रेनों को रुट बदल कर गया- डीडीयू के रास्ते चलाई जा रही है। ट्रेन यात्री विभिन्न स्टेशनों पर फंसे रहे। 15658 कामाख्या-दिल्ली ब्रह्मपुत्र मेल गया के रास्ते दिल्ली के लिए रवाना की गई। 12335 भागलपुर- लोकमान्य तिलक गया के रास्ते रवाना हुई। 13423 अजमेर- भागलपुर मोकामा- बरौनी- मुंगेर के होकर भागलपुर गई। 03273 झाझा- पटना मेमू सुबह 9.53 मिनट से मनकठा स्टेशन पर रुकी थी। 12317 कोलकाता- अमृतसर अकालतख्त एक्सप्रेस मनकट्ठा स्टेशन पर रुकी रही। 12367 भागलपुर- आनंद विहार विक्रमशिला नवादा - गया के रास्ते चलाई गई। 22197 कोलकाता- वीरांगना लक्ष्मीबाई एक्सप्रेस किऊल से खुलने के बाद लखीसराय स्टेशन पर कुछ देर के लिए रुकी रही। फिर 7 किलो मीटर आगे मनकठा में जाकर रुक गई। 13030 मोकामा- हावड़ा एक्सप्रेस मोकामा से नहीं चली। 18183 टाटा- दानापुर एक्सप्रेस को शेखपुरा - बख्तितरपुर के रास्ते चलाई गई। 12305 हावड़ा- नई दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस किऊल पटना के बजाय धनबाद- गया के रास्ते चलाई गई। 13419 भागलपुर- मुजफ्फरपुर जनसेवा एक्सप्रेस मुंगेर- बरौनी के रास्ते गंतव्य को गई।

फरक्का एक्स. समेत इन ट्रेनों के ठहराव की मांग
बड़हिया में पूर्व से रूकने वाली टाटा छपरा कटिहार लिंक स्पेशल, सियालदह बलिया स्पेशल, गुवाहाटी लोकमान्य तिलक साप्ताहिक एवं स्पेशल, भागलपुर लोकमान्य तिलक एवं स्पेशल,भागालपुर मुजफ्फरपुर जनसेवा एक्सप्रेस, 03413 व 03414 मालदा नई दिल्ली फरक्का एक्सप्रेस, 03483 व 03484 मालदा नई दिल्ली फरक्का एवं स्पेशल 081121 व 08622 पाटलीपुत्रा एक्सप्रेस का ठहराव की मांग की गई जा रही है।

खबरें और भी हैं...