खबर का असर:उदाकिशुनगंज एनएच 106 पर डाला जाएगा जीएसबी

मधेपुराएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • अधिकारियों की टीम के स्थल पर जाकर किया निरीक्षण, दिया काम तेज गति से करने के निर्देश

जिले से गुजरने वाली एनएच-106 की खस्ताहाल इनदिनों परेशानी का सबब बनते जा रहा है। जगह-जगह तो सड़क बन गई है, पर खासतौर से ग्वालपाड़ा से उदाकिशुनगंज की 10 किलोमीटर की दूरी बारिश शुरू होने के साथ ही वाहन चालकों के लिए परेशानी खड़ा रहा है। सड़क निर्माण के लिए डाली गई कच्ची मिट्टी बारिश के कारण कीचड़ में तब्दील हो गई है। इस कारण से ग्वालपाड़ा से उदाकिशुनगंज या उदाकिशुनगंज से ग्वालपाड़ा की ओर गलती से आ जाने वाले वाहन चालक पछताते रहते हैं। इससे संबंधित खबर दैनिक भास्कर में प्रकाशित होने के बाद सोमवार को उदाकिशुनगंज के एसडीएम राजीव रंजन सिन्हा ने एनएच के कार्यपालक पदाधिकारी के साथ स्थल का निरीक्षण किया। निरीक्षण के बाद एसडीएम श्री सिन्हा ने बताया कि आज शाम तक खासकर फुलौत चौक से पेट्रोल पंप तक सड़क और जमा कीचड़ से पानी बहा दिया जाएगा। उधर से पानी बहाव का का रास्ता भी है। शाम से जीएसबी भी डालना शुरू कर दिया जाएगा। बहुत तेजी से काम कराया जा रहा है। मालूम हो कि कीचड़ में गाड़ी के फंस जाने के बाद उसे निकालने में भी दूसरे वाहनों का सहारा लेना पड़ रहा है। जानकार वाहन चालक उदाकिशुनगंज से बिहारीगंज, सरौनी होते हुए ग्वालपाड़ा आना शुरू कर दिए हैं। लेकिन इसके लिए भारी वाहन चालकों को कम से कम पांच लीटर ज्यादा डीजल खर्च करना पड़ रहा है। इससे डीजल-पेट्रोल की लगातार बढ़ती कीमतों को देखते हुए महज 10 किलोमीटर की दूरी तय करने के लिए दूसरे रास्ते से 500 रुपए तक अधिक खर्च करना पड़ रहा है। जबकि चार पहिया वाहन चालकों को 200 रुपए तक अधिक खर्च करना पड़ रहा है।

खबरें और भी हैं...