मधुबनी में बच्चे को पीटने के मामले में दो नामजद:दो मासूम बच्चों को बंधक बनाकर बेरहमी से पीटा था, गांव के सरपंच और चौकीदार पर हुई प्राथमिकी

मधुबनी8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • गांव के सरपंच,चौकीदार के पुत्र

मधुबनी जिला के खुटौना लौकहा थाना पुलिस ने दो मासूम बच्चों को बंधक बना कर बेरहमी से पीटने वाले दो लोगों के विरुद्ध मामला दर्ज किया गया। जिसमे उसी गांव के सरपंच उपेंद्र यादव और दूसरा सेवानिवृत चौकीदार का पुत्र मो. शकील को नामजद आरोपित बनाया गया है।

मालूम हो कि गुरुवार को दो किशोरों का एक अर्थ नग्न अवस्था में पिटाई का वीडियो वायरल हुआ था। जिसमें सरपंच व बगीचा का मालिक लीची तोड़ने को लेकर बड़ी ही बेरहमी से दोनों के हाथो को रस्सी से बांधकर उनके शरीर से शर्ट को उतरवा कर चींटी का घोंसला उनके शरीर पर गिरा दिया। हद तो तब हो गई जब दबंग सरपंच जब दोनो बच्चे चिलाते रहे और रहम की भीख मांगते रहे लेकिन वो बच्चे के शरीर पर चींटी का घोंसला डालता रहा। लेकिन दबंग सरपंच के साथ कई महिला और चौकीदार का पुत्र महज अपने कैमरा में वीडियो बनाकर सिर्फ तमाशा देखते रहें और महिलाएं खिलखीला कर हंसती रही। किसी ने भी दोनों मासूम बच्चों की सहायता नहीं की। जबकि लोगों को कानून का पाठ पढ़ाने वाले और नैतिकता की राह दिखाने वाले ही पुलिस का एक अंग हो काननू की गरिमा तार-तार कर गया। कानून का रक्षक ही जब भक्षक बन जाएंगे, तो फिर समाज विरोधी तत्वों से निबटने के लिए जनता किसके पास आए। इधर थानाध्यक्ष संतोष कुमार मंडल ने कहा कि प्रवेश पीड़ित बच्चो को मेडिकल जांच कराया गया है। पीड़ित परिवार के द्वारा दिए आवेदन में सरपंच उपेंद्र यादव और मो. शकील को नामजद आरोपित किया गया है। मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी गई है।

खबरें और भी हैं...