मधुबनी में सैलून चलाने वाला नाई का मिला शव:ग्रामीणों ने किया प्रदर्शन, बांस-बल्ला लगाकर सड़क को किया जाम

मधुबनी2 महीने पहले

मधुबनी जिले के बाबूबरही थाना क्षेत्र के विक्रमशेरपुर गांव में शनिवार को विक्रमशेरपुर तथा बरहा गांव के बीच कोसी वितरणी नहर में एक लाश को लोगों को पानी मे तैरते हुए दिखा। इसके बाद पानी में शव मिलने की जानकारी पूरे इलाके में फैल गई।

देखते ही देखते घटनास्थल पर लोगों की भीड़ इकट्ठा होने लगी। इसकी जानकारी पुलिस को दी गई। पुलिस दल बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचकर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। शव की पहचान छुपाने के लिए चेहरा पर तेजाब डाला गया था।

इस घटना को लेकर आक्रोशित ग्रामीणों ने रविवार को मधुबनी-खुटौना मुख्य मार्ग को पिपराघाट पुल के पास सड़क पर शव को रख कर मृतक के परिजनों ने सरकारी मुआवजा व हत्यारों की गिरफ्तारी को लेकर बांस बल्ले से सड़क को कई घंटो तक किया जाम। जाम कर प्रशासन के विरुद्ध नारेबाजी करते हुए सड़क पर आगजनी भी किया। वही ग्रामीणों ने हत्यारों को चिन्हित कर अति शीघ्र गिरफ्तारी करने, मृतक के परिजनों को बीस लाख रुपये की सरकारी मुआवजा, मृतक के आश्रितों को सरकारी नौकरी सहित अन्य मांगों को लेकर कई घंटो तक सड़क पर अड़े रहे।

सड़क जाम स्थल से दोनों तरफ सड़क पर गाड़ियों की कतारे खड़ी हो गई। बीडीओ राधा रमन मुरारी,सीओ विजया कुमारी, राजनगर थाना अध्यक्ष अरविंद कुमार, बाबूबरही थाना के पीसीआई रविंद्र कुमार के चार दिनों में कांड का उद्भेदन करते हैं हत्यारों को गिरफ्तारी करने के आश्वासन पर जाम हटाया गया।

इधर मृतक का पहचान विक्रमशेर गांव की स्व मूंगा लाल ठाकुर का 35 वर्षीय पुत्र परमेश्वर ठाकुर उर्फ बुच्चू ठाकुर के रूप में हुई है। परिवार का जीवन यापन के लिए मृतक एक छोटा सा सैलून चलता था। और गांव-गांव में घूमकर हजामत का कार्य करता था। इस घटना से जहां गांव में मातम पसरा हुआ है वही मृतक की पत्नी इंदु देवी रोते-रोते बेहोश हो जाती है।

खबरें और भी हैं...