फसल डूबी:24 घंटे में वाल्मीकिनगर से 11500 क्यूसेक पानी गंडक में डिस्चार्ज किया

मोतिहारीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गंडक नदी में बढ़ा पानी  । - Dainik Bhaskar
गंडक नदी में बढ़ा पानी ।
  • नेपाल में हो रही बारिश असर: गंडक नदी में पानी बढ़ने से फसल डूबी

नेपाल में लगातार हो रही बारिश से पूर्वी चंपारण होकर बहने वाली नदियों का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है। गंडक नदी का जलस्तर बढ़ने से तटवर्ती क्षेत्र में रहने वाले लोग परेशान होने लगे हैं। 24 घंटे में 11500 क्यूसेक पानी का अधिक डिस्चार्ज गंडक नदी में हुआ है। वाल्मीकिनगर से हर दो घंटे पर पानी छोड़ा जा रहा है। हर बार पिछली बार से अधिक पानी नदी में डाला जा रहा है। इधर, मानसून के आने से जिले में भी बारिश की संभावना बनने लगी है। बारिश के बाद बाढ़ की संभावना से लोग पलायन की तैयारी कर रहे हैं। इधर, लालबकेया नदी का जलस्तर भी बढ़ा है। गत सप्ताही नदी का पानी बाहर आ गया था। जिससे मोतिहारी-शिवहर सड़क पर करीब 10 घंटे तक आवागमन बंद था।

प्रशासन की तैयारी पूरी
बाढ़ से निपटने के लिए कंट्रोल रूप पूरी तरह काम करने लगा है। कंट्रोल रूम के कर्मी लगामार वाल्मीकिनगर बराज व नेपाल से संपर्क में हैं। नेपाल में हो रही बारिश की जानकारी लेकर उसे यहां संधारित किया जा रहा है।

खबरें और भी हैं...