• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Motihari
  • Motihari News; The Family Wanted To Make A Paper For The Daughter's Safety, On This The Boy Demanded The Bride's Virginity Test

विदाई के वक्त दूल्हा बोला- वर्जिनिटी टेस्ट कराओ:मोतिहारी में डिमांड रखते ही दूल्हे समेत 4 को बनाया बंधक, दुल्हन का साथ जाने से इनकार

मोतिहारी3 महीने पहले

मोतिहारी में शादी के बाद जमकर हंगामा हुआ। लड़की पक्ष ने दूल्हे, उसके पिता और 2 बहनोई को बंधक बना लिया। दरअसल, दूल्हे ने विदाई के वक्त दुल्हन की वर्जिनिटी टेस्ट कराने की मांग रख दी। इस डिमांड पर लड़की वाले आगबबूला हो गए। वधू पक्ष के लोगों ने दूल्हे को बंधक बना लिया। उन्हें 2 दिन बंधक बनाए रखा। इसके बाद पुलिस और स्थानीय लोगों की पहल पर लड़की वालों ने उन्हें छोड़ा, लेकिन दुल्हन ने दूल्हे के साथ जाने से इनकार कर दिया।

दूल्हे की अजीब डिमांड के पीछे का कारण जानने से पहले पोल में हिस्सा लेकर अपनी राय दीजिए।

मामला तुरकौलिया थाना के चारगाहा का है। जहां 16 नवंबर को स्वर्गीय गुदरी बैठा की बेटी की शादी बेतिया के मझौलिया थाना क्षेत्र के अहवर शेख गांव से निर्मल बैठा के बेटे सूरज बैठा के साथ हुई। दूसरे दिन विदाई के समय दोनों पक्षों में विवाद हुआ। जिसके बाद दूल्हे ने जांच कराने की मांग की।

बेटी की सेफ्टी के लिए पेपर बनवाना चाहते थे परिजन

16 नवंबर को बैंड बाजे के साथ बेतिया से बाराती चारगाहा पहुंचे, जहां शादी धूमधाम से हुई। लेकिन गुरुवार की सुबह में विदाई के वक्त लड़का और लड़की पक्ष में किसी बात को लेकर विवाद हो गया। इस पर वर पक्ष ने लड़की वालों पर आरोप लगाया कि उन्होंने पेपर बनाने की बात कही है, ताकि उनकी लकड़ी को ससुराल में दिक्कत न हो।

दूल्हे की वर्जिनिटी टेस्ट की मांग पर लड़की वालों ने उसे बंधक बना लिया।
दूल्हे की वर्जिनिटी टेस्ट की मांग पर लड़की वालों ने उसे बंधक बना लिया।

दूल्हा बोला- वर्जिनिटी टेस्ट कराओ तब होगी विदाई

इस बात पर दूल्हे राजा नाराज हो गए और कहा कि आप भी अपने लड़की की मेडिकल जांच कराए कि वो वर्जिन है कि नहीं। इस डिमांड पर लोग आक्रोशित हो गए। दोनों पक्षों में धक्का-मुक्की शुरू हो गई। लड़की पक्ष ने ये भी आरोप लगाया लड़का शराबी है। लकड़ी की विदाई नहीं होगी

दो दिनों तक रखा बंधक

वर्जिनिटी टेस्ट की डिमांड पर भड़के दुल्हन पक्ष के लोगों ने दूल्हे और उसके परिजन को बंधक बना लिया। लोगों ने दूल्हा के साथ उसके पिता और दो बहनोई (जीजा) को बंधक बना लिया। लड़की वालों ने दो दिनों तक उन्हें बंधक रखा।

इस बीच पंचायती का दौर शुरू हुआ। तुरकौलिया थानाध्यक्ष मिथिलेश कुमार, स्थानीय जन प्रतिनिधियों के सहयोग से मामले का निपटारा करने पहुंचे। 18 नवंबर को लड़के वालों ने थाने में आवेदन दिया। जिसके बाद उन्हें मुक्त कराया गया। इधर दुल्हन ने दूल्हे के साथ जाने से इनकार कर दिया।और दुल्हे राजा को बिना दुल्हन के घर जाना पड़ा।

वर्जिनिटी टेस्ट से जुड़ी कुछ अन्य खबरेंः

शादी की जानलेवा रस्म:कुकड़ी प्रथा में फेल होने पर बेरहमी से पीटा, इतना टॉर्चर कि दुल्हन ने सुसाइड कर लिया​​​​​​

क्या शादी की कोई ऐसी रस्म भी हो सकती है, जो दुल्हन की इज्जत तार-तार कर दे और उसकी जान ही ले ले? जी हां, राजस्थान में ऐसा हो रहा है। पढ़ने में ये बात शायद अटपटी लगे, लेकिन ये सच है कि राजस्थान के कई गांवों में शादी करना गाड़ी खरीदने जैसा ही है। जैसे गाड़ी खरीदने से पहले टेस्ट ड्राइव की जाती है, उसी तरह दुल्हन काे भी वर्जिनिटी टेस्ट से गुजरना पड़ता है। इस टेस्ट को कुकड़ी की रस्म का नाम दिया गया है। इस घिनौनी रस्म के नाम पर दुल्हन की जिंदगी के सबसे खास दिन काे सबसे खौफनाक बना दिया जाता है। चादर पर खून के धब्बों से तय होता है दुल्हन वर्जिन है या नहीं। चादर साफ हो तो दुल्हन के कैरेक्टर पर कई दाग लगा दिए जाते हैं। मौत से खौफनाक सजा दी जाती है। घर की महिलाओं के सामने ससुर-जेठ दुल्हन के कपड़े उतारकर पीटते हैं। रेप करते हैं। पूरी खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें।

दुल्हन की जिंदगी का सबसे डरावना सच:'V' टेस्ट में फेल तो बेहोश होने तक पीटा, जान बचाने को 300 KM पैदल चली

‘दुल्हनों का वर्जिनिटी टेस्ट’ सीरीज के पहले भाग में आपने पढ़ा किस तरह परंपरा के नाम पर दुल्हन की जिंदगी के सबसे खास दिन काे सबसे डरावना बना दिया जाता है। आज पढ़िए कुकड़ी प्रथा का एक और घिनौना पहलू, जो और भी ज्यादा डरावना है। कई परिवार ऐसे हैं जो खुद चाहते हैं कि दुल्हन ‘कुंवारी’ न हो और वर्जिनिटी टेस्ट में फेल हो जाए। दुल्हन टेस्ट में पास भी हो जाती तो जान बूझकर उसे फेल कर दिया जाता है। पूरी खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें।

शादी के बाद 'V' टेस्ट में फेल हुई दुल्हन:पंचायत ने लगाया 10 लाख रुपए का जुर्माना, पति-सास ने किया टॉर्चर

शादी के बाद 'V' (वर्जिनिटी) टेस्ट में लड़की पास नहीं हुई तो उसे ससुराल वालों ने छोड़ दिया। गांव में पंचायत बुलाई गई। पंचायत ने लड़की और उसके घरवालों पर 10 लाख रुपए का जुर्माना लगाया। पैसे नहीं दिए तो लड़की और उसके घरवालों को प्रताड़ित किया जा रहा है। मामला भीलवाड़ा जिले के बागोर थाना इलाके का है।​​​​​​​ पूरी खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें।

खबरें और भी हैं...