मुंगेर में अतिक्रमणकारियो पर चला निगम प्रशासन का बुलडोजर:शहर की मुख्य सड़कों को कराया गया अतिक्रमण मुक्त, निगम ने 60 हजार वसूला जुर्माना

मुंगेरएक महीने पहले

बिहार की राजधानी पटना के राजीव नगर अतिक्रमण अभियान का असर मुंगेर में दिखने लगा है। मुंगेर में निगम प्रशासन ने शहर कि मुख्य सड़कों को अतिक्रमण मुक्त कराया है। शहर कि ज्यादातर मुख्य सड़कों को प्रायः फुटकर दुकानदारों, ठेलावालो, खोंचावालों के द्वारा अतिक्रमित कर ली जाती है जिसे आज मंगलवार को नगर निगम प्रशासन द्वारा मुक्त कराया गया है।

अतिक्रमण मुक्त अभियान के तहत शहर के एक नम्बर ट्रैफिक से लेकर पूरबसराय रेलवे पुल तक उसके बाद मुंगेर कोतवाली थाना मोड़ से लेकर नीलम सिनेमा चौक, अंबे चौक से कोड़ा मैदान, कोणार्क मोड़, शादीपुर तक अतिक्रमण मुक्त कराया गया। अतिक्रमण मुक्त करा रहे नगर आयुक्त निखिल धनराज ने इस मामले में बताया कि लगातार ये अभियान चलता रहेगा। उसके बाद भी जो लोग सड़कों और फुटपाथों का अतिक्रमण करते पाए जाएंगे उनकी निगरानी विडियोग्राफी, सहित निगम के द्वारा नजर रखी जाएगी।

अतिक्रमण अभियान के बाद अगर फिर कोई निगम की सड़क या जमीन को अतिक्रमण करते पाए जाते हैं तो उनके विरुद्ध कानूनी कार्यवाई की जाएगी,उन्हें जुर्माना लगाया जाएगा,इसपर भी नही माने तो उनके सामानों को जप्त कर उनके विरुद्ध कड़ी कानूनी कार्यवाई की जाएगी।

बता दें कि निगम प्रशासन के द्वारा मुंगेर में पिक्ष्ले 8 दिनों से अतिक्रमण अभियान चलाया जा रहा है। इसी क्रम में कल सोमवार को शहर के किराना पट्टी में अतिक्रमण अभियान के दौरान कुछ स्थानीय लोगों से पुलिस की झड़प हो गयी थी। इस घटना में मजिस्टेट के रूप में तैनात सदर प्रखंड विकास पदाधिकारी बिकास कुमार के द्वारा कोतवाली थाना में दो लोगों के बिरुद्ध प्राथमिकी दर्ज की गई थी। जिसके बाद पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार जेल भेज दिया है। निगम प्रशासन के द्वारा अबतक लगभग 60हजार रुपया जुर्माना वसूला गया है।

खबरें और भी हैं...