हड़ताली सफाई कर्मियों से की चर्चा:नगर निगम की नारकीय व्यवस्था के लिए शासन-प्रशासन ही जिम्मेवार : राजद

मुंगेर14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
हड़ताली सफाई कर्मियों के साथ चर्चा करते राष्ट्रीय महासचिव व अन्य। - Dainik Bhaskar
हड़ताली सफाई कर्मियों के साथ चर्चा करते राष्ट्रीय महासचिव व अन्य।
  • युवा राजद महासचिव ने हड़ताली सफाई कर्मियों एवं निगम प्रशासन के बीच मध्यस्थता का किया प्रयास

नगर निगम की नारकीय व्यवस्था के लिए राज्य सरकार तथा जिला प्रशासन पूरी तरह जिम्मेवार है। क्योंकि लंबे समय से राज्य सरकार ने नगर निगम में पूर्णकालिक नगर आयुक्त की पोस्टिंग नहीं की तथा जिला प्रशासन ने लगातार 13 दिनों से हड़ताल पर डटे सफाई कर्मियों के मांगों पर विचार करने तथा हड़ताल समाप्त करने का किसी भी स्तर पर प्रयास नहीं किया। यह बातें युवा राजद के राष्ट्रीय महासचिव अविनाश कुमार विद्यार्थी उर्फ मुकेश यादव ने शनिवार को हड़ताली सफाई कर्मियों एवं उप नगर आयुक्त विनय कुमार से वार्ता के बाद कही। राजद नेता ने कहा कि नगर निगम के सफाई कर्मियों के हड़ताल के बीच राज्य के नगर विकास मंत्री सह जिले के प्रभारी मंत्री तारकिशोर प्रसाद तथा जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह स्थानीय सांसद राजीव रंजन उर्फ ललन सिंह का मुंगेर दौड़ा हुआ। लेकिन दोनों नेताओं ने मुंगेर के लोगों की सुधी नहीं ली। इस क्रम में राजद नेता ने सफाई कर्मियाें के नेताओं से मुलाकात की तथा शहर की स्थिति का जायजा लिया एवं इसके बाद नगर निगम कार्यालय में उप नगर आयुक्त विनय कुमार से सफाई कर्मियों की मांगों पर चर्चा की। लेकिन इसका कोई हल नहीं निकल पाया। इस बाबत राजद नेता ने कहा कि यदि शीघ्र ही हड़ताल को समाप्त नहीं कराया गया तो निगम क्षेत्र में बजबजाते कूड़े से गंभीर बीमारियां फैल सकती है। इसके अलावा निगम क्षत्र में फागिंग कराने की जरूरत है। इसलिए शीघ्र ही सफाई कर्मियों के वेतन का भुगतान करवाकर हड़ताल समाप्त कराया जाना चाहिए तथा शहर की सफाई व्यवस्था सुचारु कराया जाना चाहिए। मौके पर मंटू शर्मा, दिनेश कुमार यादव, शशिशंकर मुन्ना, आदर्श कुमार राजा, राज यादव, गौतम यादव आदि मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...