नगर निकाय चुनाव:नवगठित निकाय में अभी होल्डिंग का निर्धारण नहीं

मुंगेर17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • नगर निगम , नगर निकाय चुनाव को लेकर राज्य निर्वाचन आयोग ने जारी किया निर्देश ,वहीं होगा नो ड्यूज सर्टिफिकेट

नगरपालिका आम को लेकर विभिन्न जिलों के निर्वाचन पदाधिकारियों द्वारा राज्य निर्वाचन आयोग से मार्गदर्शन मांगे जाने पर राज्य निर्वाचन आयोग ने विस्तृत दिशा-निर्देश जारी किया है। इसके तहत यदि नगर निकाय नवगठित है तथा वहां अभी होल्डिंग टैक्स का निर्धारण नहीं किया गया है तो वैसे में वहां के कार्यपालक पदाधिकारी / प्रशासक द्वारा अभ्यर्थी के आवेदन के पर यह प्रमाण-पत्र उपलब्ध कराएंगे। “नवगठित / सीमा विस्तारित नगर परिषद / नगर पंचायत अंतर्गत वर्तमान में होल्डिंग का निर्धारण नहीं किया गया है। निर्वाची पदाधिकारी द्वारा नामांकन पत्र के साथ प्रस्तुत इस प्रमाण-पत्र को ही नो ड्यूज सर्टिफिकेट के रूप में स्वीकार किया जाएगा। वहीं ऐसे नगरपालिकाओं में जहां अभ्यर्थी नामांकन पत्र भरने के लिए नो ड्यूज सर्टिफिकेट मांग रहे हैं, वहां के संबंधित जिला निर्वाचन पदाधिकारी (नगरपालिका) ऐसे नगरपालिकाओं के प्रशासक/ कार्यपालक पदाधिकारी को प्राथमिकता के आधार पर अभ्यर्थियों को नो ड्यूज सर्टिफिकेट जारी करने का निर्देश देंगे। इसके अलावा अभ्यर्थी द्वारा निर्वाची पदाधिकारी के पास प्रस्तुत किए जाने वाले शपथ-पत्र के प्रपत्र-ख के साथ संलग्न अनुसूची की कंडिका 5 (क) में अभ्यर्थी के स्वयं, पति/पत्नी एवं एवं आश्रितों सहित अचल सम्पत्ति की स्थिति, माप तथा वर्तमान बाजार मूल्य विवरण स्व मूल्यांकित कर देगा। इसके अलावा किसी अन्य प्राधिकार द्वारा इस के संबंध में निर्गत कागजात की अभिप्रमाणित प्रति संलग्न करने की आवश्यकता नहीं होगी।

समाहर्त्ता को शपथ पत्र जारी करने के लिए कर सकते हैं प्राधिकृत

राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा 02 अगस्त 2022 को जारी पत्र की कंडिका 5 का (ट) में अभ्यर्थी के संबंधित नगरपालिका क्षेत्र में कोई होल्डिंग या दुकान आदि नहीं होने के संदर्भ में कार्यपालक दंडाधिकारी से जारी शपथ पत्र जमा करने का प्रावधान किया गया है। जिसे निर्वाचन पदाधिकारियाें द्वारा शिथिल करने का अनुरोध किया गया है। यह निर्देश दिया गया है कि जिन अनुमंडलों में कार्यपालक दंडाधिकारी पदस्थापित हैं, उनके द्वारा इस प्रकार का शपथ पत्र निर्गत किया जाएगा। चूंकि एसडीओ में भी कार्यपालक दंडाधिकारी की शक्तियां निहित होती है। ऐसे में एसडीओ भी शपथ पत्र जारी कर सकते हैं। इसके अलावा जिन जिले में पदस्थापित वरीय उप समाहर्त्ता को भी कार्यपालक दंडाधिकारी की शक्तियां दी गई है, वहां के जिला निर्वाचन पदाधिकारी (नगरपालिका) जिले में पदस्थापित कार्यपालक दंडाधिकारी की शक्ति प्राप्त वरीय उप समाहर्त्ता को शपथ पत्र जारी करने के लिए प्राधिकृत कर सकते हैं।

खबरें और भी हैं...