मुंगेर में हार्डकोर नक्सली मुकेश खैरा अरेस्ट:मुखिया परमानंद टुड्डू हत्याकांड में था शामिल, एसटीएफ एवं जिला पुलिस की टीम ने पकड़ा

मुंगेरएक महीने पहले
पुलिस गिरफ्त में कुख्यात नक्सली।

मुंगेर पुलिस को मिली बड़ी सफलता, हार्डकोर नक्सली मुकेश खैरा को एसटीएफ एवं जिला पुलिस की टीम ने किया गिरफ्तार। गिरफ्तार नक्सली धरहरा प्रखंड क्षेत्र के आजिमगंज पंचायत के नव निर्वाचित मुखिया परमानंद टुड्डू हत्या कांड में भी संलिप्त था, जिसकी गिरफ्तारी से पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। हार्डकोर नक्सली को एसटीएफ और जिला पुलिस ने लड़ैयाटांड़ थाना क्षेत्र के अमराशनी कोल स्थित उसके घर से ही किया गिरफ्तार। मुंगेर पुलिस इसे एक बड़ी सफलता मान रही है।

मुंगेर एसटीएफ को सूचना मिली कि धरहरा प्रखंड क्षेत्र के आजिमगंज पंचायत के नव निर्वाचित मुखिया परमानंद टुड्डू हत्याकांड का आरोपी हार्डकोर नक्सली एक मुकेश खैरा अपने घर अमराशनी कोल आया हुआ है, जिसके बाद एसटीएफ और जिला पुलिस के द्वारा विशेष रणनीति के तहत स्पेशल अभियान के तहत छापेमारी कर उसे गिरफ्तार किया। मालूम हो कि मुखिया हत्याकांड में अब तक 10 आरोपियों की गिरफ्तारी पुलिस के द्वारा की जा चुकी है। साथ ही जानकारी के मुताबिक गिरफ्तार नक्सली लखीसराय जिले में भी कई कांडो का आरोपी है।

पुलिस ने बताया कि धरहरा प्रखंड क्षेत्र के आजिमगंज पंचायत के नव निर्वाचित मुखिया परमानंद टुड्डू की 23 दिसंबर 2021को हत्या उस वक्त नक्सलियों ने कर दी जब वो रात्रि में अपने घर मथुरा गांव में सोया हुआ था। नक्सलियों ने उसे घर से उठा कर घर से करीब 100 मीटर दूर ले जा गला रेत कर कर निर्मम तरीके से हत्या कर दी। जिसके बाद यह मामला मुंगेर में ही नही बल्कि बिहार में भी अपनी छाप छोड़ सियासत को गर्म जनप्रतिनिधियों की सुरक्षा को ले सवाल खड़ा कर दिया था।

वही हाई प्रोफाइल मामला होने के कारण जिला पुलिस के द्वारा त्वरित कार्रवाई करते हुए 21 को नामजद अभियुक्त बनाया। इसमें कई की गिरफ्तारी पहले हो चुकी है। वहीं एसपी जग्गूनाथ रेड्डी जला रेड्डी ने बताया की जिले में क्राइम कंट्रोल और उसका उद्भेदन को ले पुलिस हमेशा एक्टिव है और जिसका परिणाम है की आज मुंगेर में अपराधियों और नक्सलियों के विरुद्ध पुलिस को लगातार सफलता मिल रही।

खबरें और भी हैं...