पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

विरोध:पीसीसी सड़क निर्माण को लेकर ग्रामीणों का प्रदर्शन, राेका काम

सिकटा8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • झुमका से दुखीछापर जाने वाली सड़क हाे रही मरम्मत

प्रखंड अंतर्गत झुमका गांव से दुखीछापर जाने वाली सड़क मरम्मत में कालीकरण की बजाय पीसीसी सड़क निर्माण को लेकर ग्रामीणों ने आक्रोशपूर्ण प्रदर्शन कर विरोध जताया। अपनी मांगों की तख्ती लिए अमिरूल हसन, नौशाद आलम, शेख एकराम, शेख अकबर, वार्ड दस के वार्ड सदस्य भुट्टी सिंह, नौ के अलिम मियां, शेख नेयाज, मदन यादव, दुखी राम, भगेलू राउत, राजेन्द्र यादव आदि ने कहा कि यह सड़क 32 साल पहले बनी थी। इस सड़क का मरम्मत में कालीकरण नहीं,बल्कि नए ढ़ंग से पीसीसी सड़क निर्माण चाहिए।झुमका मस्जिद से लठियांही प्राथमिक विद्यालय तक डेढ़ किलोमीटर में पीसीसी सड़क के निर्माण कराने पर अड़े थे।

उन्होंने कहा कि कहा कि पीसीसी सड़क यदि नहीं बनेगी तो सड़क मरम्मत कार्य नहीं होने देंगे। ग्रामीणों ने बताया कि इसे लेकर ग्रामीण कार्य विभाग के सचिव, जिलाधिकारी, अधीक्षण अभियंता बेतिया समेत ग्रामीण कार्य विभाग प्रमंडल नरकटियागंज के कार्यपालक अभियंता को भी मांग पत्र देकर पीसीसी सड़क निर्माण कराने की मांग की गई है।

ग्रामीणों ने बताया कि इस सड़क का निर्माण के बाद से मरम्मत तक नहीं हुआ। वहीं प्रत्येक वर्ष आने वाली बाढ़ से यह सड़क काफी जर्जर हो गया है। इतने दिनों में गांव की जनसंख्या में भारी वृद्धि होने व आवासीय घर बन जाने के कारण झुमका व लठियांही गांव एक में सट गया है। यहां की आबादी घनी हो गई है। करीब 45 सौ की आबादी है। सड़क के दोनों किनारे वर्षों पहले से घर बन चुके हैं। जिसके कारण सड़क पर बराबर कीचड़ व जलजमाव रहता है। इस बीच सड़क पर कालीकरण की लाइफ नहीं रहेगी।

खबरें और भी हैं...