आक्रोश में कर्मचारी:छह माह से मानदेय नहीं मिलने पर आशा कार्यकर्ता ने किया प्रदर्शन

बंजरियाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पीएचसी में मानदेय को लेकर प्रदर्शन करते आशा कार्यकर्ता। - Dainik Bhaskar
पीएचसी में मानदेय को लेकर प्रदर्शन करते आशा कार्यकर्ता।

पीएचसी पकड़िया पर शुक्रवार को छह माह से बकाए मानदेय के भुगतान को लेकर आशा कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया। इस दौरान आशा कार्यकर्ताओं ने ओपीडी सहित सभी सेवाओं को बंद करा दिया। सूचना पर पहुंचे प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ अनिल कुमार झा ने आशा कार्यकर्ताओं को तीन दिन में भुगतान कराने का आश्वासन दिया। साथ ही स्वास्थ्य प्रबन्धक आदित्य रंजन, बीसीएम शिल्पी कुमारी सहित सभी ऑपरेटर व एएनएम को बैठ कर भुगतान संबंधित अधूरा कार्य पूरा करने का निर्देश दिया।

आशा कार्यकर्ताओं का आरोप था कि उन लोगो का भुगतान पीएचसी स्तर पर रोक दिया गया है। उन्होंने कहा कि हम आपात समय व संक्रमण के समय जान हथेली पर रख काम किये है। विधानसभा चुनाव में काम किए है परन्तु एक पैसा भुगतान नहीं मिला है। ऐसे में जब छठ सामने है हमारे पास पैसा नही है कि पूजा कर सके। उन्होंने पीएचसी कर्मियों पर आरोप लगाया कि वे ड्यूटी कराने के लिए जितनी क्रूरता करते है।

उतना भुगतान के लिए तत्परता दिखाते तो हम लोगो को प्रदर्शन नही करना पड़ता। मार्च से लेकर अक्टूबर तक का मानदेय बकाया है। जिसमे अगस्त तक का सभी कागजात जमा कर दिया गया है। प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी ने कहा कि मैं स्वयं इस कार्य की मॉनिटरिंग कर रहा हूँ। साथ ही आशा फेसिलेटर,एएनएम व बीसीएम को निर्देश दिया जाता है। प्रत्येक महीने उनका भुगतान बना कर ऑनलाइन कर दे।

ताकि उनका भुगतान राज्य से हो सके। मौके पर सीमा पाठक,लवली कुमारी,सीमा देवी,आशा रानी,पूर्णिमा देवी,संजू देवी,राजकुमारी देवी,मीना देवी, अंजना ठाकुर, रेणु कुमारी, प्रमिला देवी, ज्ञानती देवी, रीता देवी,सुषमा देवी, शोभा देवी, बिधुवाला देवी, सीमा देवी, प्रभा देवी, शोभा देवी, प्रियंका देवी सहित अन्य मौजूद थी।

खबरें और भी हैं...