नाेटिस:अनाज योजना की राशि रखने वाले डीलरों काे भेजा नाेटिस

बेनीपुर6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

काम के बदले अनाज योजना में सरकारी राशि पर कुंडली जमा कर बैठे क्षेत्र के एक दर्जन से अधिक डीलरों के विरुद्ध डेढ़ दशक बाद अब कार्रवाई होनी तय मानी जा रहा है। जिला आपूर्ति पदाधिकारी ने उन्हें नोटिस भेजकर 17 जनवरी को अभिलेख के साथ कार्यालय में उपस्थित होने का निर्देश दिया है। ज्ञात हो कि वर्ष 2005 -06 में काम के बदले अनाज योजना अंतर्गत जिले में व्यापक पैमाने पर सरकारी राशि की लूट का मामला प्रकाश में आया था। उस समय अभियंताओं एवं जन वितरण विक्रेताओं की मिलीभगत से व्यापक पैमाने पर खाद्यान्न की कालाबाजारी कर सरकारी राशि की गोलमाल की गई थी।

उक्त मामले को लेकर भाकपा के पूर्व जिला सचिव राम कुमार झा चरणबद्ध आंदोलन भी चला चुके हैं। तत्कालीन जिला पदाधिकारी के निर्देश पर कई जन वितरण विक्रेताओं के विरुद्ध प्राथमिकी भी दर्ज हुई थी और जेल भी गए थे। लेकिन सरकार की उक्त महत्वाकांक्षी योजना की पलीता लगाने वाले अभी भी लाखों लाख रुपए का खाद्यान्न खाकर हजम कर चुके हैं । लेकिन एक बार पुनः जिला आपूर्ति पदाधिकारी के द्वारा नोटिस जारी किए जाने के बाद बेनीपुर के एक दर्जन से अधिक जन वितरण विक्रेताओं में हड़कंप मचा हुआ है ।

कार्यालय सूत्रों के अनुसार वर्तमान समय में नवादा पंचायत के डीलर शंभू नाथ झा के जिम्मे 5 लाख 914 रुपए, डखराम पंचायत के गणेश राय 6754 रुपए ,बाथो पंचायत के शिवधारी पासवान 2 लाख 40 हजार 695 रुपए, नगर परिषद क्षेत्र के वार्ड 21 के डीलर राम तपेश्वर पासवान 18 हजार 331 रुपए ,नवादा गांव के ही उदय कांत ठाकुर के जिम्मे 1 लाख 38 सौ 50 रुपए, अमैठी पंचायत के घुरकी सदा के विरुद्ध 43 हजार 950 ,नवादा गांव के दयाशंकर झा के जिम्मे 5 लाख 51 हजार 124 , पोहद्दी पंचायत के पशुपति झा के जिम्मे 8 लाख 80 हजार 662 ,भैरव झा के पास 29 हजार 360 ,तरौनी पंचायत के सागर साहु के जिम्मे 6809 रुपए , सझुआर के उदय चंद्र झा के जिम्मे 3 लाख 96 हजार714 रुपए है।

खबरें और भी हैं...