संक्रमण की रफ्तर तेज:डीएम आवास के एक कर्मी, जीएमसीएच के 2 कर्मी व एसएसबी जवान समेत 14 संक्रमित

बेतिया13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • जनवरी 2021 में 56 संक्रमित थे, इस साल मात्र 7 दिनाें में हुआ 74

जिले में शुक्रवार की देर शाम तक 14 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए है। सीएस डॉ. वीरेंद्र कुमार चौधरी ने बताया कि आरटीपीसीआर जांच में 14 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। पॉजिटिव मिले लोग अपने घरों में होम क्वारेन्टाइन हैं। संक्रमित मिले लोगों में डीएम आवास पर तैनात एक कर्मी, जीएमसीएच के दो कर्मी तथा एसएसबी जवान भी शामिल है। एसएसबी जवान छुट्‌टी से वापस आए थे। नगर के इलमराम चौक, परवतिया टोला, क्रिश्चन क्वार्टर, खुशी टोला में एक-एक संक्रमित मिले है। वहीं सिरिसिया ओपी, चंद्रपुर, बिनवलिया, खड्डा में भी एक-एक संक्रमित मिले है। बगहा में बीते 24 घंटे के दौरान 6 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इनमें एक व्यक्ति को अनुमंडलीय अस्पताल में जांच के दौरान कोरोना पॉजिटिव पाया गया, जबकि पांच अन्य मरीजों की पहचान अर्बन पीएचसी की जांच में हुई। जो लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं, उनमें एसएसबी 21वीं व 65वीं वाहिनी के एक-एक जवान समेत बुनियाद केंद्र व सहकारिता विभाग के एक-एक कर्मी भी शामिल हैं। दो अन्य लोग बगहा - 1 प्रखंड में अलग अलग गांवों के रहने वाले हैं। अर्बन पीएचसी के प्रभारी डाॅ. राजेश सिंह नीरज व नोडल पदाधिकारी डा. रणवीर सिंह ने बताया कि पॉजिटिव पाए गए मरीजों को आवश्यक दवा देकर होम क्वारेंटाइन किया गया है। उधर, अनुमंडलीय अस्पताल के जांच अधिकारी सह लैब टेक्नीशियन रौशन कुमार ने बताया कि यहां एक व्यक्ति को पॉजिटिव पाया गया है।

सतर्क रहें : ओमिक्रॉन वैरिएंट के संक्रमण का वैक्सीनेटेड लोगों में भी खतरा

बगहा नगर में एनएच- 727 स्थित रेलवे गुमटी संख्या स्पेशल 50 पर लगी यह भीड़ कोरोना के प्रति यहां के लोगों की बेपरवाही बयान कर रही है। यह तस्वीर शुक्रवार की शाम 5 बजे की है। रेलवे क्रॉसिंग पर लगी इस भीड़ में इक्के दुक्के लोगों के पास ही मास्क नजर आता है। सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल किसी को नहीं है। आलम यह कि बीते 24 घंटे के दौरान बगहा में 6 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए जा चुके हैं। फिर भी सतर्कता का कोई भाव नजर नहीं आता। प्रशासन की भी इस दिशा में बेरुखी नजर आ रही है।

2021 में 7 जनवरी तक मिले थे मात्र 13 पॉजिटिव

2021 में कोरोना के दूसरे वेब में जनवरी में कोरोना की रफ्तार काफी धीमी थी। वर्ष 2021 के 7 जनवरी तक जिले में मात्र 13 लोग कोरोना पॉजिटिव पाये गये थे। इस तरह पिछले साल पूरे जनवरी माह में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 56 था। जबकि इस साल 7 जनवरी तक यह आंकड़ा 74 हाे गया है।

जिनकी इम्युनिटी कमजोर उनमें संक्रमण का खतरा
पूर्व सीएस डॉ अरुण कुमार सिन्हा कहते हैं कि कोरोना का नया वैरिएंट ओमिक्राॅन देश में तीसरी लहर का कारण बन सकता है, ऐसे में इससे बचाव के उपायों को प्रयोग में लाते रहना बहुत आवश्यक है। ओमिक्रॉन वैरिएंट वैक्सीनेटेड लोगों में भी संक्रमण का कारण बन सकता है, ऐसे में सभी लोगों को इससे बचाव के उपाय करते रहने चाहिए। कोरोना का खतरा उन लोगों में अधिक होता है जिनकी इम्युनिटी कमजोर होती है।

खबरें और भी हैं...