शिक्षकों को फरवरी का वेतन नहीं मिला हैं / जीओबी के 4000 शिक्षकों का नहीं हुआ वेतन भुगतान

X

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:00 AM IST

बेतिया. विभागीय कवायद व तमाम प्रयासों के बाद भी जिले के करीब 4 हजार शिक्षकों को अब तक फरवरी का वेतन नहीं मिल सका है। जबकि सरकार ने ईद के पूर्व मई तक के वेतन भुगतान का निर्देश जारी कर रखा है। इसको लेकर शिक्षकों में आक्रोश गहराता जा रहा है। शिक्षकों की हड़ताल टूटने के बाद उन्हें वेतन मिलने का रास्ता साफ हो गया था। पहले फरवरी में प्रारंभिक शिक्षकों के 16 व माध्यमिक शिक्षकों के 24 दिन का वेतन मिलने की बात सामने आई थी। शिक्षा विभाग ने इस दिशा में प्रयास भी शुरू कर दिया। जिससे एसएसए मद से भुगतान पाने वाले शिक्षकों के बैंक खातों में फरवरी माह का वेतन जाना भी शुरू हो गया। लेकिन, जीओबी मद से भुगतान पाने वाले करीब 4 हजार शिक्षकों को वेतन का इंतजार अब भी बना हुआ है। डीईओ सह स्थापना डीपीओ विनोद कुमार विमल ने बताया कि एसएसए की राशि शिक्षकों के खाते में जा चुकी है। वहीं जीओबी का बिल कोषागार में भेजा जा चुका है। उन्होंने बताया कि शिक्षकों के वेतन मद में मिलने वाली राशि के आवंटन में देरी हुई थी। बावजूद इसके जिला शिक्षा कार्यालय से वेतन भुगतान की सारी प्रक्रिया समय से पूरी कर ली गई। डीईओ ने कहा कि कोषागार से मिली जानकारी के अनुसार कुछ ही शिक्षकों का वेतन अब तक उनके खाते में नहीं गया है। वह भी जल्द ही  शिक्षकों खाते में चला जाएगा। इधर शिक्षकों संगठनों की मानें तो जीओबी मद से वेतन पाने वाले शिक्षकों का अब तक भुगतान नहीं हो सका है। इससे सैकड़ों मुस्लिम शिक्षकों की ईद फींकी हो गई है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना