पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अक्टूबर तक शुरू हो जाएंगी सभी सुविधाएं:जीएमसीएच बी-ब्लॉक में 9 ओटी, 150 बेड वाले आईसीयू और 6 रेडियोलॉजी की मिलेगी सुविधा

बेतिया21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
तैयार हो रहा जीएमसीएच का बी-ब्लॉक। - Dainik Bhaskar
तैयार हो रहा जीएमसीएच का बी-ब्लॉक।
  • बीएमएसआईसीएल के 5 विशेषज्ञ कर रहे हैं कार्य की मॉनिटरिंग

गवर्मेंट मेडिकल कॉलेज बेतिया के बी-ब्लॉक के चार अलग-अलग फ्लोर पर एक साथ 150 बेड वाला आईसीयू, 9 ऑपरेशन थिएटर और 6 से अधिक रेडियोलॉजी की सुविधा अक्टूबर माह तक मिल जाएगी। सिविल वर्क के लिए एलएनटी को जिम्मेवारी सौंपी गई है। वहीं इंटीरियर वर्क और उपकरणों को अलग-अलग फ्लोर पर लगाने की जिम्मेवारी बीएमएसआईसीएल अर्थात बिहार मेडिकल सप्लाईज इंफ्रास्ट्रक्चर कॉरपोरेशन लिमिटेड ने ली है। इसके 5 वरीय विशेषज्ञ जीएमसीएच के बी ब्लॉक में हो रहे कार्यों का निरीक्षण करने के लिए पदस्थापित किए गए हैं । उपकरण और मशीनों को इंस्टॉल करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है । जुलाई और अगस्त माह तक जीएमसीएच के बी ब्लॉक के 2 फ्लोर को आधुनिकतम मेडिकल उपकरणों और अन्य सुविधाओं से लैस कर दिया जाएगा तथा सितंबर अक्टूबर तक इसी ब्लाक के अन्य 2 फ्लोर भी मेडिकल उपकरणों से सुसज्जित कर लिए जाएंगे।

इंस्टॉल हो रही नई-नई मशीनें, लगाए जा रहे उपकरण

पिछले दिनों जिले में आए प्रभारी मंत्री ने जीएमसीएच अधीक्षक को इस आशय का निर्देश दिया था। निर्देश के आलोक में दिन रात काम किया जा रहा है ताकि आने वाले 120 दिन के अंदर रोगियों को मेडिकल की बेस्ट सुविधा मिल सके। जीएमसीएच के अधीक्षक डॉ. प्रमोद तिवारी ने बताया कि सिविल और इंटीरियर वर्क पूरी तत्परता के साथ किया जा रहा है। नई-नई मशीनें इंस्टॉल की जा रही है। शीघ्र ही रोगियों को बी ब्लॉक में ही सभी प्रकार की सुविधा मिलने लगेगी।

रेडियोलाॅजी के लिए भी सभी सुविधाएं होंगी उपलब्ध

सभी ऑपरेशन थिएटर के लिए आधुनिकतम उपकरणों को इंस्टॉल किया जा रहा है । इसमें सर्जरी के लिए दो अलग अलग कक्ष होंगे जिसमें एक कक्ष से सेप्टिक सर्जरी के लिए होगा। इसके अलावे ऑर्थोपेडिक, आई, ईएनटी और गाइनेकोलॉजी विभाग के लिए अलग-अलग ऑपरेशन थिएटर तैयार किए जा रहे हैं। रोगियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए इसी तल्ले में रेडियोलोजी की सुविधा भी बहाल की जा रही है। इसमें एक्स-रे, अल्ट्रासाउंड, सीटी स्कैन तथा एम आर आई की सुविधा भी रहेगी। एमआरआई की सुविधा थोड़ी विलंब से मिलेगी लेकिन इसके लिए स्वीकृति मिल चुकी है।

^अभी सी-ब्लॉक कार्यरत है, तथा बी-ब्लॉक के चार अलग-अलग फ्लोर पर रेडियोलॉजी आईसीयू और अाेटी की सुविधा बहाल करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। प्रभारी मंत्री के निर्देश के आलोक में कार्य तेजी से किया जा रहा है। अक्टूबर तक बी-ब्लॉक पूरी तरह से सुविधाएं देने लगेगा। -डॉ. प्रमोद तिवारी, अधीक्षक, जीएमसीएच।

खबरें और भी हैं...