पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अष्टयाम:नरदेवी मंदिर के दिवंगत पुजारी की स्मृति में शुरू हुआ अखंड अष्टयाम

बेतिया11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
जटाशंकर मंदिर में अखंड अष्टयाम के लिए पूजन करते श्रद्धालु। - Dainik Bhaskar
जटाशंकर मंदिर में अखंड अष्टयाम के लिए पूजन करते श्रद्धालु।
  • जटाशंकर मंदिर परिसर में थारु कल्याण महासंघ ने किया आयोजन

नरदेवी मंदिर के दिवंगत पुजारी नरेंद्र पुरी की स्मृति में थारू कल्याण महासंघ व नर देवी पूजा समिति के सदस्यों की पहल पर जटाशंकर मंदिर परिसर में रविवार को अखंड अष्टयाम की भव्य शुरुआत की गई। टाइगर रिजर्व के जंगल में अवस्थित जटाशंकर महादेव का मंदिर परिसर हरे रामा हरे कृष्णा, कृष्ण कृष्ण हरे हरे की धुन के साथ गुलजार हो उठा। श्रद्धालुओं का उत्साह व उनकी श्रद्धा भाव देखते बन रहा था। थारु कल्याण महासंघ के अध्यक्ष महेश्वर काजी ने बताया कि स्वर्गीय पुजारी बाबा ने मां नरदेवी की सेवा सुदीर्घ काल तक की है।

वयोवृद्ध हो चुके बाबा दो माह पहले ही गोलोकवासी हुए थे। स्थानीय लोग उनके प्रति अगाध आदर की भावना रखते हैं। उन्हीं की याद में अखंड अष्टयाम का यह आयोजन किया गया है। यजमान की भूमिका प्रभु यादव व मुन्ना कुमार तथा आचार्य के रूप में पंडित राजेश्वर उपाध्याय अपने अपने दायित्वों का समर्थ निर्वहन कर रहे हैं। अष्टयाम की शुरुआत के अवसर पर बड़ी संख्या में थारू समुदाय के लोग मंदिर परिसर में उपस्थित रहे। 24 घंटे के इस अष्टयाम का समापन सोमवार को होगा। नरदेवी मंदिर पूजा समिति के सदस्य प्रेम कुमार, छोटू श्रीवास्तव, पृथ्वी प्रसाद सोनी, कुंदन कुमार आदि सतत सक्रिय हैं।

खबरें और भी हैं...