लोगों को जंगल किनारे नहीं जाने की हिदायत:बाघ के लोकेशन व गतिविधि पर नजर रख रहे हैं वन कर्मी

बेतियाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सोमवार को तरुअनवा के पास दो पर किया था हमला

बगहा- 2 प्रखंड की देवरिया तरुअनवा पंचायत में तरुअनवा गांव के दो लोगों पर बाघ के हमले के बाद वीटीआर की सरगर्मी तेज हो चली है। वनकर्मियों की टीम हमलावर बाघ के लोकेशन व उसकी गतिविधियों को वाच करने में लगातार जुटे हैं। बाघ का रेस्क्यू कर उसे सघन जंगल की ओर ले जाने का प्रयास जारी है। बताते चलें कि सरेह की ओर निकले तरुअनवा निवासी 60 वर्षीय पारस सोनी व 50 वर्षीय पारस सोनी पर सोमवार को बाघ ने लगभग सवा घंटे के अंदर अलग अलग हमला कर दोनों को गंभीर रूप से घायल कर डाला था। इस घटना के बाद ग्रामीण खासे दहशत में हैं। मदनपुर वन क्षेत्र की प्रभारी एसीएफ अमिता राज ने बताया कि वन कर्मियों की टीम बाघ की निगरानी में जुटी है। आसपास के ग्रामीणों को पर्याय सतर्कता बरतने तथा जंगल के किनारे नहीं जाने की हिदायत दी गई है। वीटीआर की रेस्क्यू टीम का नेतृत्व हरनाटांड़ के वन क्षेत्र अधिकारी रमेश श्रीवास्तव समेत अन्य अधिकारी कर रहे हैं। बड़ी संख्या में वनकर्मी इस अभियान में लगाए गए है।

खबरें और भी हैं...