पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बेतिया में महिला के साथ गैंगरेप:शादी का झांसा देकर संबंध बनाए, 7 लाख रुपए भी ले लिए, रिश्ते से इनकार पर महिला ने पैसा मांगा तो सामूहिक दुष्कर्म किया, थाने के चौकीदार समेत 4 पर केस

बेतिया21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
इसी थाना क्षेत्र में हुई घटना। - Dainik Bhaskar
इसी थाना क्षेत्र में हुई घटना।

बेतिया जिले के कंगली थाना क्षेत्र के सबैठवा गांव में बकाया पैसा मांगने गई महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म करने की घटना घटी है। मामले में पीड़िता कलीला खातून ने पुलिस को आवेदन देकर थाने के चौकीदार समेत चार को नामजद कराया है। पुलिस को दिए आवेदन में पीड़ित महिला ने खुलासा किया है कि मेरे पति रईस मियां का दूसरी औरत से नाजायज संबंध हो गया। बाद में मेरे पति ने उसको घर में रख लिया और मेरे साथ मारपीट कर घर से बाहर निकाल दिया।

महिला ने बताया है कि मैं महिला समूह की एक सदस्या भी हूं। समूह में काम से घूमते-घूमते वर्ष 2019 में मसवास गांव के नाजीर आलम से मुलाकात हुई। बार- बार मुलाकात होने से नजदीकी बढ़ी तो उसने कहा कि मैं अपनी पत्नी को छोड़ चुका हूं और तुमसे शादी करना चाहता हूं। इसके लिए मैं राजी हो गई तो उसने कुछ पैसों की मांग की। बाद में मैं अपना पैसा और समूह के पैसे उन्हें देती गई। इस दौरान उसने मुझसे 7 लाख 68 हजार रुपए ले लिए। शादी करने की बात कह कर कई बार शारीरिक संबंध भी बनाया। जब मैं गर्भवती हुई तो धोखे से दवा खिलाकर गर्भपात करवा दिया और मुझसे शादी से इंकार करते हुए अपने बीवी-बच्चों के साथ रहने लगा। जब मैं अपना पैसा वापस मांगने गई तो हो-हल्ला करने लगा, जिसके बाद 20 दिसम्बर 2020 को पंचायती हुई, जिसमें उसने 50 हजार रुपए दिए। एक कागज पंचों के सामने बनाते हुए पैसा बैसाख माह में देने के लिए बोला। बैसाख माह में पैसा नहीं मिला तो एक दिन बेतिया के कंगली थाना के मसवास गांव के चौकीदार उमेश यादव मेरे पास आया और बोला कि चलो आज नाजीर आलम तुम्हारा पैसा वापस करने के लिए बुलाया है।

जब मैं थाने के चौकीदार उमेश के साथ मसवास गांव गई तो उसने मुझे अपने बैठके में बैठा कर बोला तुम रुको मैं नाजीर को बुलाकर ला रहा हूं। थोड़ी देर बाद चौकीदार, नाजीर आलम और दो अन्य व्यक्ति, जिसे नहीं पहचानती, वे उनके साथ में आये और कमरे में बंद कर चारों ने मेरे साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। मेरे चिल्लाने पर भी कोई नहीं आया। बाद में फिर नाजीर आलम अपने घर ले जाकर चारों के साथ रात में भी दुष्कर्म किया। बाद में चौकीदार ने धमकी भी दी कि कहीं मुंह खोलोगी तो तुम्हारा पैसा भी नहीं मिलेगा और जान से भी हाथ धो बैठोगी। बाद में समूह की औरतें तलाशते हुए नाजीर के घर आई तो अर्धनग्न अवस्था में मुझे मेरे घर लाई। इन दुष्कर्मियों के कारण मेरे पेट में फिर बच्चा ठहर गया है।

उधर आवेदन मिलने के बाद पुलिस ने चौकीदार उमेश यादव, नाजीर आलम एवं अन्य अज्ञात दो पर प्राथमिकी दर्ज कर ली है। इस संबंध में कंगाली थानाध्यक्ष पीके समर्थ ने बताया कि केस दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जा रही है। बहुत जल्द दोषियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

खबरें और भी हैं...