पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

समस्या:सुबह में तेज गरज के साथ हुई बारिश, शहर के वार्ड नंबर- 3 अाैर 7 में सड़क पर जलजमाव

बेतियाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नरकटियागंज के वार्ड नबंर- 7 में पीसीसी सड़क हुआ जलजमाव। - Dainik Bhaskar
नरकटियागंज के वार्ड नबंर- 7 में पीसीसी सड़क हुआ जलजमाव।
  • मोहल्लेवासियों ने कहा- सफाई कर्मियों की लापरवाही से जलजमाव की परेशानी झेलनी पड़ रही है

नरकटियागंज व आसपास के इलाकों में शुक्रवार की सुबह से तेज गरज के साथ बारिश हुई। जिससे नगर के वार्ड संख्या 3 एवं 7 में पीसीसी सड़क पर पानी लग गया। जल जमाव होने से संबंधित मोहल्लेवासियों को काफी परेशानी उत्पन्न हो गई है। हालांकि इस वार्ड में कभी भी बारिश होती है, तो जलजमाव की समस्या उत्पन्न हो जाती है। शुक्रवार को जल जमाव होने से बरसात जैसे हालात हो गए हैं। पीसीसी सड़क पर पानी भरा हुआ है। वहीं मोहल्ले के लोगों का कहना है कि कभी भी बरसात से पहले नगर परिषद द्वारा बेहतर ढंग से जल निकासी की व्यवस्था नहीं किया जाता है। जिसे बारिश होने पर जलजमाव की स्थिति उत्पन्न हो जाती है।  सफाई कर्मियों की लापरवाही से जलजमाव होने पर मोहल्लेवासियों को परेशानी झेलनी पड़ रही है।

उक्त दोनों वार्ड में नाला की सफाई नहीं होने से जलजमाव हमेशा बनी रहती है। मोहल्लेवासियों ने नगर परिषद प्रशासन से नाला सफाई करने तथा जलनिकासी की व्यवस्था करने की मांग किया है। बता दें कि उक्त वार्डों में हल्की बारिश होने के बाद सड़क पर जलजमाव की समस्या उत्पन्न हो जाती है। जल जमाव होने से मोहल्लेवासियों को अपने घरों से निकलना दूभर हो जाता है। बावजूद इसके नगर परिषद प्रशासन द्वारा कोई स्थाई व्यवस्था नहीं किया जा रहा है। जिससे दोनों वार्डों में लगभग 2 साल से जलजमाव की समस्या मोहल्लेवासी झेल रहें हैं।

परेशान लोगों ने नगर परिषद से जलनिकासी की व्यवस्था करने की मांग की

घंटों हुई झमाझम बारिश से किसानों में खुशी

मैनाटांड़ | शुक्रवार की सुबह से ही रुक-रुक कर हो रहे झमाझम बारिश से से किसानों में खुशी है। झमाझम बारिश से जहां ईख की फसल को काफी फायदा हुआ है वहीं आम और लीची के टिकोलो को भी फायदा पहुंचा है। प्रखंड क्षेत्र में आंधी नहीं होने से टिकोलों को क्षति नहीं पहुंची है। जबकि पानी से ईख की फसल को जान सी आ गई है। वहीं महंगे दाम पर डीजल खरीद कर पटवन कर रहे किसानों को राहत मिला है। इस झमाझम बारिश से धान की खेती के लिए बिचड़े गिराने और खेत की जोताई करने में भी किसानों को काफी फायदा होगा। वही बारिश से मौसम में बदलाव आया है। मौसम खुशनुमा होने से लोगों को गर्मी से निजात मिला है। वहीं पानी से गांव की सड़कों पर कीचड़ का साम्राज्य हो गया।जबकि घंटों बिजली गुल रही। जिससे लोगों को परेशानी का भी सामना करना।

खबरें और भी हैं...