पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

राज्यसभा सांसद ने कहा:मोदी सरकार का आम बजट आत्मनिर्भर भारत के संकल्पों का योजनाबद्ध दस्तावेज है : सतीश चंद्र

बेतिया20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • देश को विकास की ओर ले जाना मोदी सरकार का संकल्प है

वित मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा प्रस्तुत 2021-22 बजट में गांव, गरीब, किसान, महिला, युवा, बुजुर्ग व कारोबारियों का पूरा ध्यान रखा गया है। मोदी सरकार के इस बजट में बुनियादी संरचनाओं का विकास, सड़क, परिवहन, रक्षा, सुरक्षा समेत भारत के अर्थशक्ती बनने का सुदृढ़ आधार निहित है। उक्त बातें राज्यसभा सांसद सतीश चन्द्र दुबे ने कही है। वे शनिवार को जिला उपाध्यक्ष अर्जुन सोनी के आवास पर एक प्रेस वार्ता को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि देश को विकास की ओर ले जाना मोदी सरकार का संकल्प है।

ऐसे में देश के सभी नागरिकों को ध्यान में रखते हुए बजट को पेश किया गया है। इस बजट से हर व्यक्ति को लाभ होगा। इसमें गरीब कल्याण व महिला सशक्तीकरण, स्वास्थ्य, कृषि सुधार व किसान कल्याण, शिक्षा, आधारभूत संरचना, सुरक्षा व मजबूत अर्थ व्यवस्था पर विशेष ध्यान दिया गया है। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में भी मोदी सरकार में देश में नए नए आयामों को साकार किया गया है। खासकर रेल क्षेत्र की व्यवस्था को काफी सुदृढ़ किया गया। रेल दोहरी करण, विद्युतीकरण समेत अनेक कार्य किए गए। कोरोना कि दवा भी सबके लिए उपलब्ध करा दी गई है। राज्यसभा सांसद ने कहा कि मोदी सरकार ने सबका साथ सबका विकास के अपने दावे को पूरा किया है। इससे आम जनमानस में हर्ष है। आम बजट भी इसी का एक रूप है।

इसमें स्वास्थ्य सेवाओं में बढ़ोतरी की गई है तो शिक्षा के क्षेत्र में भी अनेक कदम उठाएं गए हैं। इस अवसर पर नप सभापति राधेश्याम तिवारी, कृष्णा प्रसाद देवीलाल, पवन वर्मा, अर्जुन सोनी, रंजन ओझा, अर्जुन भारतीय, पंकज वर्मा, सुधीर कुमार, अभय मिश्रा, मदन तिवारी, रविकांत पराशर, रविभूषण कुमार, अजीत सर्राफ, विजय जायसवाल, शिपु चौबे, अमीत गुप्ता दीपू रजक, पिंटू गुप्ता, गोविंद गुप्ता, कपिल देव शर्मा आदि मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप अपने व्यक्तिगत रिश्तों को मजबूत करने को ज्यादा महत्व देंगे। साथ ही, अपने व्यक्तित्व और व्यवहार में कुछ परिवर्तन लाने के लिए समाजसेवी संस्थाओं से जुड़ना और सेवा कार्य करना बहुत ही उचित निर्ण...

    और पढ़ें