266 रुपए रेट निर्धारित किया गया:नरकटियागंज प्रखंड को मिला 100 मीट्रिक टन यूरिया, किसानों को राहत

बेतिया3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • खुदरा खाद विक्रेता निर्धारित मूल्य से अधित रुपए लेंगे तो कार्रवाई की जद में आएंगे

नरकटियागंज प्रखंड को 100 मीट्रिक टन यूरिया उपलब्ध कराया गया है। जिला कृषि पदाधिकारी के द्वारा जारी पत्र में प्रखंडवार यूरिया का आवंटन दिया गया है। अब प्रखंड के किसानों को यूरिया की किल्लत नहीं होगी। प्रभारी प्रखंड कृषि पदाधिकारी श्रीकांत ठाकुर ने शनिवार को जानकारी देते हुए बताया कि यूरिया का निर्धारित रेट 266 रुपए है। खुदरा खाद विक्रेता निर्धारित मूल्य के ऊपर एक रुपए भी अधिक लेंगे तो कार्रवाई की जद में आएंगे। प्रभारी बीएओ ने बताया कि प्रखंड के 27 पंचायतों के लिए यूरिया उपलब्ध करवा दिया गया है।

सौ मीट्रिक टन यूरिया को अलग अलग थोक विक्रेताओं को आवंटित किया गया है। पूरे जिला में सबसे अधिक यूरिया खाद नरकटियागंज को उपलब्ध करवाया गया है। उल्लेखनीय है कि गत दिनों नरकटियागंज में यूरिया की भारी किल्लत से किसान परेशान थें। आए दिन किसान यूरिया को लेकर इधर-उधर भागा दौड़ में लगे थे। अब किसानों को यूरिया को लेकर परेशान नहीं होना पड़ेगा। वहीं यूरिया की खेप पहुंचने से कई किसानों ने खुशी जाहिर की है। नरकटियागंज विधायक रश्मि वर्मा ने भी किसानों को यूरिया की किल्लत को देखते हुए डीएम से बात की थी। उन्होंने यूरिया का आवंटन जल्द से जल्द उपलब्ध करवाने की मांग की थी।

यूरिया के लिए परेशान हैं मैनाटांड़ प्रखंड क्षेत्र के किसान
प्रखंड क्षेत्र में रुक-रुक कर बारिश होने से जहां धान के फसल के लिए इस वारिश को वरदान माना जा रहा है। तो वहीं किसानों को प्रखंड में यूरिया की लिए को दर-दर भटकना पड़ रहा है। फिर भी किसानों को यूरिया का बोरा नसीब नहीं हो रहा है। प्रखंड के खाद दुकानदारों में यूरिया की भारी किल्लत बनी हुई है। इसका असर धान के फसल के उत्पादन पर पड़ेगी। किसान प्रतिदिन खाद की दुकानों पर किसान पहुंच रहे हैं लेकिन दुकानदार के द्वारा यूरिया नहीं होने की बात कह कर उन्हें लौटा दिया जा रहा है।

किसान रामाधार प्रसाद, संजय प्रसाद, पप्पू प्रसाद, अखिलेश्वर साह, दीनबंधु प्रसाद, अयोध्या महतो, कैलाश यादव, दिवाकर सिंह,रौशन पटेल,राजू प्रसाद आदि ने बताया कि अभी धान की फसल की निकौनी चल रही है। अगर निकौनी के बाद यूरिया का छिड़काव नहीं किया गया तो धान की फसल मारी जाएगी। इधर, प्रभारी बीएओ कुरेश्वर नाथ गुप्ता ने बताया की रैक लग गया है। बहुत सारे खाद दुकानदार शनिवार को खाद उठा रहे हैं। कल से खाद का वितरण शुरू हो जाएगा।

टेंपाे पर लदे 11 बोरा अवैध यूरिया को ग्रामीणों ने पकड़ा

एक तरफ जहां प्रखण्ड के किसानों को एक बोरी यूरिया पाने के लिए कृषि विभाग के गोदामों का चक्कर काटना पड़ रहा है। यूरिया की कमी के कारण क्षेत्र में हाहाकार मची हुई है। तो दूसरी तरफ सरकारी गोदामों से यूरिया की कालाबजारी हो रही है। कृषि बाजार समिति के प्रांगण में बने बिस्कोमान खाद की गोदाम से शुक्रवार की देर शाम टेंपाे में भरकर चोरी-छिपे 11 बोरी अवैध यूरिया खाद खपाने भेजा जा रहा था। इसी बीच स्थानीय ग्रामीणों ने खाद से भरी टेंपाे को रुकवाकर पूछताछ की तो वाहन चालक ने बिस्कोमान गोदाम से खाद लेकर बिजबनिया गांव में ले जाने की बात कहा। ग्रामीणों ने इसकी सूचना पुलिस व प्रखण्ड कृषि पदाधिकारी को भी दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने खाद को जब्त कर अग्रेतर कार्रवाई के थाना लाया। थानाध्यक्ष मनीष कुमार ने बताया कि प्रखंड कृषि पदाधिकारी से मंतव्य मांगा गया है।इस संबंध में प्रभारी बीएओ अविनाश कुमार ने बताया कि उक्त खाद की जांच की जा रही है।

खबरें और भी हैं...