खाद्य सामग्री का वितरण किया / राजद नेता ने तीन हजार जरूरतमंदों के बीच उपलब्ध कराई खाद्य सामग्री

असहयोग के बीच राशन वितरण करते पूर्व मुखिया। असहयोग के बीच राशन वितरण करते पूर्व मुखिया।
X
असहयोग के बीच राशन वितरण करते पूर्व मुखिया।असहयोग के बीच राशन वितरण करते पूर्व मुखिया।

  • शनिवार को अलग-अलग पंचायतों में समाजसेवी द्वारा राहत सामग्री बांटी गई

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:00 AM IST

बेतिया. राजद के प्रदेश महासचिव रणकौशल प्रताप सिंह उर्फ गुड्‌डु सिंह ने तीन हजार जरूरतमंदों के बीच खाद्य सामग्री का वितरण किया है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस से बचाव को लेकर लॉकडाउन की अवधि को बढ़ाकर 30 मई तक कर दिया गया है। जिसके कारण प्रखंड में मजदूरी कर जीवन-यापन करने वाले सैकड़ों मजदूर की आर्थिक स्थिति अत्यंत ही दयनीय हो गई है। जिसको लेकर अत्यंत गरीब व जरूरतमंद लोगों के बीच राहत सामग्री पहुंचाने का कार्य किया जा रहा हैं। प्रदेश महासचिव के द्वारा शनिवार को योगापट्टी प्रखंड के विभिन्न गांवो एंव क्वारेटाइन सेंटरों में रह रहे 3 हजार प्रवासी मजदूर व जरूरतमंद लोगों के बीच खाद्य सामग्री का वितरण किया गया। इस दौरान सोशल डिस्टेंस का भी पूर्ण ख्याल रखा गया। महामारी से सुरक्षा को लेकर मास्क व सैनेटाइजर भी उपलब्ध कराया गया हैं। राजद नेता ने लोगों से बेवजह घर से बाहर नहीं निकलने के प्रति जागरूक किया तथा बिना मास्क के बाहर नहीं निकलने की सलाह भी दिया। उन्होंने बिहार सरकार पर मजदूरों को ठगने का आरोप लगाया। कहा कि बिहार की सीमा पर प्रवेश करने वाले मजदूरों के लिए सरकार की ओर से कोई व्यवस्था नहीं की गई है। सरकार से मजदूरों को अधिकार देने की मांग भी किया है।
पूर्व मुखिया ने 240 लोगों के बीच बांटी राहत सामग्री, कहा- बीमारी से लड़े बीमार से नहीं
बैरिया| 
हमें  बीमारी से लड़ना है बीमार से नही। दूसरे राज्यों से आने वाले प्रवासी मजदूरों को कोरोना बीमारी नहीं है। उन्हें जांच के लिए 14 दिनों तक क्वारेंटाइन किया जा रहा है ताकि अगर उनमें इस बीमारी के लक्षण दिखाई दे तो तुरंत उसका इलाज कराया जा सके। कोशिश की जा रही है कि यह बीमारी औरों को ना फैले। अतः उन्हें घृणा की दृष्टि से ना देखें। उक्त बातें मियांपुर दुबौलिया पंचायत के पूर्व मुखिया शेख अमरूला ने कहीं। वे सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए असहायो के बीच राशन सहित आवश्यकताओं से जुड़ी अन्य सामग्रियों का वितरण कर रहे थे। गुरुवार को उनके दरवाजे पर लगभग 240 असहाय परिवारों के बीच 20 किलो चावल, दाल, चीनी, सरसों तेल, प्रयोग में आने वाले सभी प्रकार के मसाले, रूह अफजा, सैनिटाइजर आदि का वितरण किया गया। साथ ही उन्होंने सभी लोगों से कहां की इस महामारी में सरकार के आदेश का पालन करें बेवजह घर से बाहर ना निकले। बहुत जरूरी हो तो घर से बाहर मास्क लगाकर निकले और बाहर जाने पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें तथा बाहर से आने पर अपने हाथों को साबुन से धोएं। सैनिटाइजर का उपयोग करें। साथ ही उन्होंने आम लोगों से आह्वान किया कि इस विश्वव्यापी महामारी में सभी लोग अपने अपने गांव में असहाय लोगों की मदद करें ताकि इस आपदा की घड़ी में कोई भूखे ना रहे।  इस कार्य में उनके साथ उनका पूरा परिवार पत्नी शहजादी खातून ,पुत्री रिमी राजा एवं पुत्र रमीज राजा सहित जदयू के युवा नेता नौशाद आलम मौजूद थे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना