नाइट कर्फ्यू:4 बजे के बाद बंद हो गई दुकानें 6 बजे से लागू हुआ नाइट कर्फ्यू

मोतिहारी6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • रोजमर्रा के अधिक सामान खरीद रहे हैं लोग, भीड़ कम

प्रशासन के निर्देश पर गुरुवार से दुकान को बंद करने का समय परिवर्तित हो गया है। गुरुवार को पहले दिन आवश्यक वस्तुओं को छोड़कर अन्य सभी दुकानें दोपहर चार बजे बंद हो गई। फल-सब्जी की दुकानें शाम छह बजे तक खुली रही। शहर के बलुआ बाजार की दुकानें चार बजे के बाद बंद हो गई। इसके पहले लोग आवश्यकता की समान खरीदने बाजार पहुंच गए थे। किराना सामान सहित फल और सब्जी की खरीदारी अधिकांश लोग चार बजे के पहले ही कर लिए। बाजार बंद होने से सड़कों पर बिरानगी छा गई। इधर, सरकारी कार्यालय भी सरकार के निर्देश पर शाम चार बजे तक बंद कर दिए गए। कलेक्ट्रेट में चार बजे के बाद सन्नाटा पसर गया। आपदा प्रबंधन कार्यालय को छोड़कर अन्य सभी कार्यालय बंद कर दिए गए। शाम छह बजे के बाद सड़कों पर कर्फ्यू का नजारा दिखने लगा।
शादी समारोह में भाग लेंगे अधिकतम 50 लोग | कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए शादी समारोह में भाग लेने वाले लोगों की संख्या घटाकर 100 से 50 कर दी गई है। वही अंतिम संस्कार में 20 लोग ही शामिल हो सकेंगे। विवाह समारोह के लिए रात्रि कर्फ्यू रात दस बजे से प्रभावी होगा। यानी समारोह का आयोजन रात दस बजे के पूर्व कर लेना होगा। विवाह के दौरान डीजे बनाने पर पूरी तरह प्रतिबंध लगा दिया गया है।
एसडीओ क्षेत्रवार दुकान खोलने के लिए जारी करेंगे रोस्टर| कोरोना महामारी को रोकने के लिए एसडीओ को क्षेत्रवार व मोहल्ला वार दुकानों को खोलने के लिए रोस्टर जारी करने का निर्देश दिया गया है। इस दौरान वह भीड़भाड़ को कंट्रोल करने के लिए अन्य कदम भी उठा सकेंगे। सब्जी व अस्थाई दुकानों को खुले जगहों पर स्थानांतरित करने की कार्यवाही जरूरत के हिसाब से करेंगे।

खबरें और भी हैं...