पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

नवरात्र विशेष:सिद्धपीठ है पटजिरवा माई स्थान, आस्था है कि यहां गिरे थे मां सती के पैर के भाग, नर-मादा पीपल में हुई उत्पत्ति

बेतिया13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • श्रीराम की बारात के पड़ाव के नाम पर है यहां के आसपास के गांवों के नाम

चंपारण अपने गर्भ में अजीबोगरीब इतिहास छिपाए हुए है। उसी में एक इतिहास जिला मुख्यालय बेतिया से दक्षिण पश्चिम में 16 किलोमीटर दूर बैरिया प्रखंड में पटजिरवा माई स्थान का भी है। इसकी गिनती सिद्धपीठों में की जाती है। भारत के विभिन्न प्रांतों सहित नेपाल के लाखों श्रद्धालु माता के दर्शन को आते है। चैत्र व शारदीय नवरात्र में यहां श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ पड़ता है। इधर, कोरोना काल में शारदीय नवरात्र के दौरान इस मंदिर में भी वीरानगी पसरी हुई है। पटजिरवा का इतिहास सतयुग व त्रेता युग से जुड़ा बताया जाता है। मान्यता है कि जब भगवान विष्णु ने अपने सुदर्शन चक्र से माता सती को खंडित करना शुरू किया तो उनके पैर के कुछ अवशेष यहां गिरे। जिससे नर व मादा दो पीपल के पेड़ों की उत्पति हुई।

जिसके बाद इस जगह का नाम पैरगिरवा पड़ा। त्रेता युग में जब श्रीराम के बारात की वापसी हुई तो महाराज जनक ने अपने राज्य की सीमा तक हर 13 कोस पर एक तालाब खुदवाया था और वहां बारात का पड़ाव दिया था। मिथिला की सीमा उस समय गंडकी के तट तक थी। यहां जब कहारों ने माता सीता की डोली रखी तो मां ने अपनी डोली का पट गिरा दिया और यहां विश्राम की इच्छा जतायी। जिसके बाद इस जगह का नाम पटगिरवा हुआ।

मार्कंडेय व शिव पुराण में है सिद्धपीठ का वर्णन

केदार पांडेय प्लस टू कन्या उच्च विद्यालय के प्राचार्य सुनील द्विवेदी की पुस्तक सिद्धपीठ पटजिरवा धाम में इस स्थान का विस्तृत वर्णन किया गया है। द्विवेदी ने बताया कि पटजिरवा भवानी की गिनती कामख्या, पटनदेवी, थावे, तारापीठ आदि सिद्धपीठों की श्रेणी में आता है। उन्होंने बताया कि इसका विस्तृत वर्णन मार्कंडेय व शिव पुराण में भी है। मंदिर के पुजारी लालबाबू मिश्र व बृजेश शुक्ला ने बताया कि जो भी श्रद्धालु सच्चे मन से यहां जो भी मन्नत मांगता है पटजिरवा माई उसे अवश्य पुरी करती है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपनी दिनचर्या को संतुलित तथा व्यवस्थित बनाकर रखें, जिससे अधिकतर काम समय पर पूरे होते जाएंगे। विद्यार्थियों तथा युवाओं को इंटरव्यू व करियर संबंधी परीक्षा में सफलता की पूरी संभावना है। इसलिए...

और पढ़ें