पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

चुनाव:वाल्मीकिनगर लोकसभा से सुनील व बेतिया और चनपटिया विस से एक-एक प्रत्याशी ने भरा पर्चा

बेतिया8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • तीसरे चरण के लिए लौरिया और वाल्मीकिनगर विधानसभा का दूसरे दिन भी नहीं खुला खाता

जिले के 9 विधानसभा व वाल्मीकिनगर लोकसभा उपचुनाव को लेकर बुधवार को अभ्यर्थियों ने नामांकन का पर्चा दाखिल किया। वाल्मीकिनगर लोकसभा उपचुनाव के लिए एनडीए समर्थित जदयू के अभ्यर्थी सुनील कुमार ने वाल्मीकिनगर लोकसभा के निर्वाची पदाधिकारी नंदकिशोर साह के समक्ष नामजदगी का पर्चा भरा। जबकि बेतिया विधानसभा से अपना विकास पार्टी के नंदलाल प्रसाद व चनपटिया विधानसभा से लोकतांत्रिक जनस्वराज पार्टी से पंडित विपिन तिवारी ने नामांकन दाखिल किया। जबकि नौतन विधानसभा से राष्ट्रीय जनाधिकार पार्टी के अभ्यर्थी यदुवेंद्र कुमार, निर्दलीय अभ्यर्थी के रूप में विकास साह व प्रियरंजन ने नामजदगी का पर्चा निर्वाची पदाधिकारी संजय कुमार के समझ दायर किया।

वही तीसरे चरण के नामांकन के दूसरे दिन भी लौरिया व वाल्मीकिनगर विधानसभा का खाता नहीं खुला। जिले के तीन विधानसभा में द्वितीय चरण के तहत चुनाव लड़ रहे भाजपा के प्रत्याशी हथियारों का शौकीन हैं। साथ ही तीनों करोड़पति हैं। बेतिया विधानसभा से चुनाव लड़ रही भाजपा के प्रत्याशी सह पूर्व मंत्री रेणु देवी के पास एक राइफल व पिस्टल है। जबकि नौतन विधायक सह भाजपा के प्रत्याशी नारायण प्रसाद के पास भी एक गन व रिवॉल्वर है। वही चनपटिया विधानसभा चुनावी दंगल में कूद भाजपा के प्रत्याशी को उमाकांत सिंह को भी हथियारों का काफी शौक है। इनके पास एक राइफल, एक दो नाली व एक रिवॉल्वर है। रेणु देवी की कुल संपत्ति 3.7 करोड़,तो नारायण एक करोड संपति के मालिक हैं। जबकि उमाकांत सिंह पास कुल 1करोड 12 लाख 74 हजार 240 की संपत्ति है। हालांकि इनको 5 करोड़ रुपये की देनदारी भी है।

गाड़ियों के भी शौकीन हैं उमाकांत, त्रिपुरारी पर तीन मामले हैं दर्ज
चनपटिया विधानसभा से चुनाव लड़ रहे भाजपा प्रत्याशी उमाकांत सिंह गाड़ियों के भी शौकीन हैं। इनके पास एक एक्सयूभी कार, दो स्कार्पियो, दो ट्रैक्टर व सात बाइक भी है। उमाकांत सिंह की शिक्षा मैट्रिक है। इनके पास हाथ में नगद राशि 2 लाख 57 हजार है,तो इनकी पत्नी के हाथ में 1 लाख 21 हजार रुपया है। वही चनपटिया विधानसभा से ही निर्दलीय प्रत्याशी त्रिपुरारी तिवारी पर बेतिया, पटना व रेल थाने में अलग-अलग मामले दर्ज हैं। बेतिया नगर व पटना कोतवाली थाना में नाजायज मजमा लगाने व रेल थाने सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने का मामला दर्ज है। त्रिपुरारी 15 लाख 65 हजार 675 रुपया संपत्ति के मालिक हैं,तो उनके हाथ 51 हजार रुपया है। बैंक खाते में 51 हजार 675 रुपया भी है। इनके पास चार चक्का नहीं है। बाइक की सवारी करते हैं।

खबरें और भी हैं...