पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अनियमितता:वर्ग 1-5 के बच्चों को पांच किलो चावल की जगह मात्र चार किलो ही दिया जा रहा था, किया बवाल

बेतिया5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
हंगामा के बाद बंद विद्यालय। - Dainik Bhaskar
हंगामा के बाद बंद विद्यालय।
  • माधोपुर बैरिया मध्य विद्यालय में चावल वितरण को लेकर हंगामा, फरार हुए शिक्षक

गौनाहा प्रखंड के राजकीय मध्य विद्यालय माधोपुर बैरिया में मंगलवार को चावल वितरण में हुए अनियमितता को लेकर विद्यालय के छात्र-छात्राओं एवं अभिभावकों ने जमकर हंगामा किया हैं। विद्यालय में हुए हंगामा को देखते हुए विद्यालय के शिक्षकों ने छात्र-छात्राओं को घर भेजकर सभी वर्गों में ताला लगाकर फरार हो गए। शिक्षकों के जाने के बाद विद्यालय में तीन शिक्षिकाएं शबाना आज़मी, वहीदा खातून व तालमी मरकज की तबसीना परवीन विद्यालय में उपस्थित थी। जिन्हें ग्रमीणों के कोपभाजन का शिकार होना पड़ा। विद्यालय के छात्र-छात्राओ व अभिभावकों ने उन शिक्षिकाओ को गालियां भी दी हैं। इस आशय की जानकारी देते हुए सहायक शिक्षिका शबाना आज़मी ने बताया कि जब भी विद्यालय में चावल बंटता है इसी तरह से लोग हंगामा करते है।

पुरुष शिक्षक व प्रधानाध्यापक विद्यालय छोड़कर भाग जाते है, परन्तु हम शिक्षिकाओ को लोगों का कोपभाजन का शिकार होना पड़ता है। इधर आक्रोश व्यक्त करते हुए ग्रामीण नीक नारायण पड़ित, जयप्रकाश शर्मा, यमुना भगत, बाबू लाल पड़ित, बिकाऊ पड़ित, बृजलाल पड़ित, मेराज खां, ललित शर्मा, असलम अंसारी, पूनम शर्मा, सोने लाल शर्मा आदि ने बताया कि विद्यालय खुलते ही सभी बच्चे अपने अभिभावक के साथ चावल लेने विद्यालय में पहुंच गए। वर्ग एक से पांच तक के बच्चे अपने अभिभावक व वर्ग शिक्षक के साथ अपने-अपने वर्ग में बैठ हुए थें। सर्वप्रथम कूपन से चावल बंटना शुरू हुआ। मात्र 25-30 बच्चों को ही चावल मिला था कि अभिभावकों ने यह कहकर विरोध जताना शुरू कर दिया कि वर्ग 1-5 के बच्चो को पांच किलो चावल की जगह मात्र चार किलो चावल क्यों दिया जा रहा है। इसी पर हंगामा खड़ा हो गया। ऐसे ही वर्ग 6से8 के छात्र-छात्राओं को सात किलो चावल की जगह मात्र साढे पांच किलो चावल ही दिया जा रहा था।

खबरें और भी हैं...