पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

रेस्क्यू:चिरौया से रेस्क्यू कर लाए गए बाघ की जांच कर पंचनाला के जंगल में छोड़ा गया

वाल्मीकिनगरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
रेस्कयू किया गया बाघ। - Dainik Bhaskar
रेस्कयू किया गया बाघ।
  • वीटीआर से भटक कर पूर्वी चंपारण के चिरैया पहुंच गया था बाघ

चिरैया से रेस्क्यू कर लाए गए बाघ को मेडिकल परीक्षण के बाद पंचनाला के सघन जंगल में छोड़ दिया गया है। इस अवसर पर वीटीआर के सीएफ हेमकांत राय व डीएफओ नीरज नारायण समेत अन्य वन अधिकारी उपस्थित रहे। बताते चलें कि वाल्मीकि टाइगर रिजर्व का यह बाघ यहां के जंगल से भटकते हुए चिरैया जा पहुंचा था। काफी मशक्कत के बाद चिरैया के बेला सरेह से गुरुवार को उसका रेस्क्यू कर यहां लाया गया। वन अधिकारियों की उपस्थिति में वन विभाग के पशु चिकित्सा अधिकारी डा. एसके रंजन ने उसका स्वास्थ्य परीक्षण कर उसके स्वस्थ होने की पुष्टि की। हालांकि पंचनाला के सघन जंगल में छोड़े जाने से पहले डाॅ. रंजन ने उसे आवश्यक दवाएं भी दीं, ताकि बाद में उसे कोई परेशानी नहीं हो। वन संरक्षक हेमकांत राय ने बताया कि वीटीआर का यह बाघ बारिश के दौरान जंगल से निकलकर पूर्वी चंपारण जिले में पहुंच गया था। वहां के अधिकारियों से जानकारी मिलने के बाद वन विभाग की टीम ने बाघ के लोकेशन की निरंतर निगरानी की तथा रेस्क्यू करने में भी टीम कामयाब रही। शुक्रवार को इस बाघ को पंचनाला के जंगल में छोड़ दिया गया। बाघ बिल्कुल स्वस्थ हालत में है। उसे किसी प्रकार की कोई दिक्कत नहीं है।

खबरें और भी हैं...