पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

अनदेखी:बस्ती के ग्रामीणों ने वोट बहिष्कार के बैनरों के साथ किया प्रदर्शन, कहा-स्कूल नहीं, तो वोट नहीं

बगहा/हरनाटांड़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • बगहा-2 प्रखंड की मंगलपुर औसानी पंचायत के सबेया महादलित बस्ती में पेड़ के नीचे बैठ कर पढ़ते हैं बच्चे

बगहा-2 प्रखंड की मंगलपुर औसानी पंचायत के सबेया महादलित बस्ती के ग्रामीणों ने यह नारा लगाया। पेड़ के नीचे पढ़ने को मजबूर इस गांव के बच्चों के अभिभावकों ने गांव में स्कूल भवन का निर्माण नहीं हो पाने के खिलाफ वोट बहिष्कार का निर्णय लिया है। अपनी इस मांग को लेकर एकजुट ग्रामीणों ने प्रदर्शन कर अपनी आवाज गंभीरता के साथ उठाई। प्रदर्शनकारियों ने अपने हाथों में स्कूल नहीं, तो वोट नहीं लिखे बैनर ले रखे थे। प्रदर्शन करने वालों में महिलाएं व बच्चे भी शामिल रहे।

बताते चलें कि यह महादलित बस्ती वाल्मीकिनगर विधान सभा क्षेत्र का हिस्सा है। प्रदर्शन में शामिल शंकर मुसहर, श्रीकांत मुसहर, दशई मुसहर, सुरेश मुसहर, उमेश मुसहर, निशा देवी, नरेश उरांव, महेंद्र उरांव आदि ने बताया कि गरीबों, दलितों व पिछड़ों के उत्थान के लिए संचालित सरकारी योजनाओं की जमीनी हकीकत उनके गांव में देखी जा सकती है। इस गांव के बच्चे पढ़ना चाहते हैं, लेकिन साधन उपलब्ध नहीं है। यहां के बच्चे विद्यालय के अभाव में पेड़ के नीचे बैठकर पढ़ने को मजबूर हैं। मौसम खराब होने पर किसी गरीब की मड़ई में बच्चों को बैठाकर शिक्षक पढ़ाते हैं।

12 साल में बन नहीं पाया स्कूल भवन, यहां के बच्चे पढ़ना चाहते हैं, लेकिन साधन ही उपलब्ध नहीं

टैग स्कूल अधिक दूर होने के कारण नहीं जा पाते हैं बच्चे
इस गांव के स्कूल को टैग किए जाने के संबंध में पूछने पर ग्रामीणों ने बताया कि मुसही मुशहर टोला के स्कूल से इस बस्ती की दूरी काफी अधिक है। खेत के रास्ते जाने पर भी लगभग 3 किमी की दूरी तय करनी पड़ेगी। इसलिए भले ही सरकार ने यहां के स्कूल को टैग कर रखा हो, लेकिन बच्चे आज भी इसी गांव में पेड़ के नीचे पढ़ते हैं।

12 वर्ष बीत गए, बन नहीं सका स्कूल, निर्माण की गुहार
गांव के बुजुर्ग शंकर मुसहर बताते हैं कि 12 साल से इस टोले में बच्चों को पढ़ाने के लिए सरकारी शिक्षक लोग आते हैं। इस लंबी अवधि के दौरान प्रखंड व अनुमंडल कार्यालय से लेकर जन प्रतिनिधियों से ग्रामीणों ने स्कूल का भवन निर्माण कराने के लिए बारंबार गुहार लगाई है, लेकिन कोई सकारात्मक नतीजा सामने नहीं आया है। चुनाव के समय नेता आते हैं और स्कूल बनवाने का आश्वासन देकर चले जाते हैं। लेकिन चुनाव के बाद उनकी इस गांव की याद कभी नहीं आती।

जमीन की अनुपलब्धता होने के कारण भवन निर्माण में आ रही है बाधा : बीईओ
बीईओ फणीशचन्द्र पाठक ने बताया कि भूमि की अनुपलब्धता के कारण यहां विद्यालय भवन का निर्माण नहीं कराया जा सका है। बीईओ के मुताबिक, बगहा - 2 प्रखंड में 20 भवनहीन स्कूल हैं। जिन विद्यालयों के पास भवन नहीं है, उन सभी को अगल बगल के स्कूल में टैग किया गया है। सबेया मुसहरटोली के स्कूल को भी सबेया मुसही मुसहर टोला के स्कूल के साथ टैग किया गया है। इस स्कूल के लिए भूमि का बंदोबस्त हो, इसके लिए प्रयास जारी है, ताकि जल्द से जल्द स्कूल भवन का निर्माण हो सके।
महिलओं ने कहा-भैंस चराते हैं बच्चे
चलचित्रा देवी समेत अनेक महिलाओं की व्यथा है कि शिक्षा के अभाव में यहां के नवयुवकों को समुचित रोजगार नहीं मिल पा रहा है। साधन के अभाव में बच्चे भैंस व बकरियां चराते हैं और अंततः दिहाड़ी मजदूरी के लिए बाध्य हो जाते हैं।
बस्ती में आंगनबाड़ी केंद्र भी नहीं
ग्रामीण बताते हैं कि यहां दो शिक्षक पदस्थापित हैं। प्रतिदिन 100 से अधिक बच्चे स्कूल पहुंचते भी हैं। बुनियादी सुविधा के अभाव में पढ़ाई के नाम पर केवल खानापूर्ति ही हो पाती है। इस महादलित बस्ती में कोई आंगनवाड़ी केंद्र भी नहीं है।

आधार पंजीकरण केंद्र के उदासीन रवैये से आवेदक परेशान, किया प्रदर्शन
मैनाटांड़ |प्रखंड मुख्यालय मे स्थित आधार पंजीकरण केंद्र के उदासीन रवैया से परेशान आवेदकों ने सोमवार को जमकर विरोध प्रदर्शन किया। प्रदर्शन कर रहे आवेदक प्रतिज्ञा कुमारी, अफसर अली, मदन पासवान, राकेश साह, मनोज दास, चांदनी कुमारी, रीता देवी, ज्योति कुमारी, संगीता कुमारी सहित दर्जनोंधिक आवेदकों ने बताया कि आधार पंजीकरण केंद्र मे प्रतिदिन किसी ना किसी तरह की खराबी उत्पन्न होती रहती है। कभी आधार पंजीकरण केंद्र के कर्मी फरार होते हैं तो कभी मशीन की खराबी रहती है। शनिवार को आधार केंद्र बंद था जिसके कारण हम लोग को वापस घर लौटना पड़ा था। वही आधार ऑपरेटर देवाशीष चौरसिया ने बताया कि प्रिंटर में तकनीकी खराबी हो जाने के कारण आधार के कार्य को बंद करना पड़ा है। बहुत ही जल्द प्रिंटर को दुरुस्त कर फिर आधार का कार्य शुरू कर दिया जाएगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज परिवार के साथ किसी धार्मिक स्थल पर जाने का प्रोग्राम बन सकता है। साथ ही आराम तथा आमोद-प्रमोद संबंधी कार्यक्रमों में भी समय व्यतीत होगा। संतान को कोई उपलब्धि मिलने से घर में खुशी भरा माहौल ...

और पढ़ें