उड़ान परियोजना:पंचायतस्तर पर हो बच्चों की समस्या का हल

भगवानपुर7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बैठक को संबोधित करते मुखिया व अन्य। - Dainik Bhaskar
बैठक को संबोधित करते मुखिया व अन्य।

उड़ान परियोजना के तहत सेव द चिल्ड्रन व यूनिसेफ के संयुक्त तत्वावधान में पंचायत भवन मेहदौली में मुखिया शिवशंकर महतो की अध्यक्षता में पंचायत स्तरीय पंचायत बाल संरक्षण समिति के गठन व दहेज एवं बाल विवाह उन्मूलन हेतु टास्क फोर्स की बैठक शनिवार को आयोजित की गई। बैठक में बाल संरक्षण समिति गठन के उद्देश्य व पंचायत व वार्ड स्तरीय संरचना पर विस्तृत चर्चा की गई।

इस समिति का कार्य पंचायत स्तर पर बच्चों की समस्या का समाधान करना है। समस्याओं का समाधान हेतु चाइल्ड लाईन नम्बर-1098, महिला हेल्प लाइन नम्बर-181, बाल श्रम हेतु व्हाट्सएप नम्बर-9471229133, पुलिस नम्बर-100 आदि पर विस्तार से जानकारी दी गई।

सामाजिक सुरक्षा योजना संबंधित कन्या सुरक्षा योजना,कन्या उत्थान योजना, आंगनवाड़ी योजना, विद्यालय योजना, परवरिश, स्पॉन्सरशिप, विवाह योजना, जन्म, विवाह, प्रवासी मजदूर पंजीकरण इत्यादि पर विस्तृत से चर्चा की गई। गठनोपरांत चयनित सदस्यों की कार्य व दायित्व की जानकारी दी गई। सर्व सम्मति से निर्णय लिया गया कि पंचायत व वार्ड स्तरीय बाल संरक्षण समिति का बैठक माह में एक बार की जाएगी।

दहेज व बाल विवाह उन्मूलन हेतु पंचायत टास्क फोर्स की बैठक भी आयोजित की गई। मुखिया में कहा कि पंचायत में बाल विवाह को रोकना सुनिश्चित किया जाएगा। अगर कोई भी प्रेस वाले शादी का कार्ड बिना जन्म प्रमाणपत्र के छापेंगे तो उन पर कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने उपस्थित लोगों से अनुरोध किया कि बाल विवाह की सूचना ससमय दें ताकि कार्रवाई की जा सके।

सेव द चिल्ड्रन के प्रखंड समन्वयक धर्मेंद्र कुमार ने बाल विवाह से संबंधित कानूनी प्रावधानों के बारे में विस्तार से बताया। ब्लू क्रॉस सोसायटी के प्रकाश चंद्र कुमार ने पंचायतों में गठित किशोर किशोरी समूहों के गठन व कार्य दायित्व के बारे में विस्तार से बताया।

खबरें और भी हैं...