कार्रवाई:चकिया में रेलवे की जमीन से अवैध दुकानें हटाई गई

चकिया3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अवैध दुकानों को हटाते जीआरपी और आरपीएफ के सिपाही। - Dainik Bhaskar
अवैध दुकानों को हटाते जीआरपी और आरपीएफ के सिपाही।

रेलवे ने एक बार फिर से अतिक्रमण हटाओ अभियान शुरू किया है। शनिवार को शहर के मुख्य चौक के नजदीक रेलवे समपार संख्या 137 के निकट व स्टेशन रोड में रेलवे के जमीन पर अवैध रूप से बने दुकानों को आरपीएफ व जीआरपीएफ की सहयोग से हटाया गया। अतिक्रमण हटाने के दौरान वहां के दुकानदारों में अफरातफरी मच गई थी। काफी देर तक यह अफरा-तफरी मची रही।आरपीएफ तथा रेलवे कर्मचारियों की वहां तैनाती की गई थी। रेलवे की जमीन पर जो लोग पहले से अतिक्रमण किए हुए हैं, उन्हें हटने के लिए पहले भी नोटिस दिया गया था।

इसके अलावा जो लोग रेलवे की खाली जमीन पर नया दुकान तैयार कर रहे हैं,उसको तोड़कर हटाया जाएगा। जबकि दूसरी तरफ दुकानदारों का आरोप है कि रेलवे पुलिस ने बिना किसी आगामी निर्देश के उसकी दुकानों को तोड़ दिया गया है।इनका कहना था कि अभी कोरोना के मार से उबरे भी नही है,दुकान अभी खुला ही है व दुकान तोड़ दिया गया हम गरीब कहा जाए सहित अन्य बात कही। इस बाबत एईएन विकास चंद्र दत्ता ने बताया कि काफी दिनों से रेलवे की जमीन पर अवैध रूप से कब्जा जमा कर लोग अपनी दुकानें कर रहे हैं।

इसे हटाने के लिए पहले भी कई बार रेलवे की ओर से लोगों को कहा जा चुका था व नोटिस भी दिया गया था व दुकान पर नोटिस चिपकाया भी गया है उसमें स्पष्ट रूप से लिखा गया है 7 अगस्त के पहले अनधिकृत रूप से लगाये गए दुकान खाली कर दे अन्यथा कानूनी कार्रवाई की जाएगी व जबरन हटा दिया जाएगा। उसके बाद भी सभी लोग जमे हुए थे। आखिरकार आरपीएफ, जीआरपीएफ की मदद से दुकानें हटाया गया है। साथ ही कहा कि आगे भी अभियान चलाकर अतिक्रमण हटाया जाएगा। इस अभियान में सिविल पुलिस का भी सहायता ली जाएगी। मौके पर आईओडब्ल्यू तपस चंद राय आरपीएफ सुमित कुमार,प्रमोद कुमार सहित अन्य कर्मी मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...