कोरोना अपडेट / अनलाॅक-1 में सभी दुकानें खुलेंगी, पर किसी भी दुकान पर एक साथ पांच से अधिक लाेग खड़े नहीं रह सकते हैं

All shops will open in Unlock-1, but no shop can stand more than five people at once.
X
All shops will open in Unlock-1, but no shop can stand more than five people at once.

दैनिक भास्कर

Jun 02, 2020, 05:00 AM IST

दरभंगा. केन्द्र सरकार की ओर से कोरोना महामारी पर कारगर नियंत्रण के लिए लॉकडाउन की अवधि को 31 मई से बढ़ा कर 30 जून तक किए जाने के आदेश एवं निर्देशों को बिहार सरकार ने यथावत लागू करने एवं केन्द्र के आदेशों एवं निर्देशों का सभी जिलों में कड़ाई से अनुपालन करने का निर्देश दिया है। गृह विभाग बिहार के आदेश के अनुसार डीएम डॉ. त्यागराजन एसएम ने अनलाॅक-1 में कंटेनमेंट जोन से बाहर के क्षेत्रों में स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय, भारत सरकार की ओर से समय-समय पर निर्धारित मानक संचालन प्रक्रिया में प्रतिबंधित गतिविधियों को 3 फेज में खोलने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि लॉक डाउन पांचवे फेज में सभी दुकानें खुलेंगे।

लेकिन किसी भी दुकान पर एक साथ 5 से ज्यादा व्यक्ति खड़े नहीं रह सकते हैं। सभी व्यक्तियों एवं प्रतिष्ठानों को सोशल डिस्टेंसिंग नियम का पालन एवं मास्क पहनना अनिवार्य होगा। अपने कार्यालय कक्ष में हुई बैठक में शामिल अधिकारी व वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से बैठक में शामिल सभी प्रखंडों के पदाधिकारी एवं ग्राम पंचायत के मुखिया एवं वार्ड प्रबंधन समिति को पंचम वित्त आयोग के अनुदान मद से सभी ग्रामीण परिवारों को 100 रुपए मूल्य तक 4 मास्क एवं 1 साबुन देने की बात डीएम ने कहीं।

डीएम ने अधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक कर दिए दिशा-निर्देश

  • धार्मिक स्थल, होटल व शॉपिंग मॉल को 8 जून से खोलने की मिली अनुमति

डीएम ने कहा कि प्रथम फेज में धार्मिक स्थल, आमजन के लिए पूजा स्थल,  होटल व रेस्टोरेंट एवं अन्य अतिथि सेवाएं एवं शॉपिंग मॉल 8 जून से खोलने की अनुमति दी जाएगी। इसके लिए स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय भारत सरकार की ओर से आदर्श मानक प्रक्रिया जारी किया जाएगा। द्वितीय फेज में राज सरकार के स्तर से माता-पिता एवं अन्य भागीदारी रखने वाले समूहों से वार्ता व सलाह के बाद स्कूल, कॉलेज, प्रशिक्षण संस्थान व कोचिंग संस्थान का संचालन किया जाएगा। तृतीय फेज में संक्रमण की स्थिति के समीक्षा के बाद दैनिक गतिविधियों के संचालन का निर्णय लिया जा सकेगा।

  • विवाह समारोह में 50 व अंतिम संस्कार में 20 से अधिक लोग ही होंगे शामिल

फिलहाल सिनेमा हॉल, जिमनेजियम, स्विमिंग पूल, मनोरंजन पार्क, थिएटर एवं सभागार और असेंबली हॉल, सामाजिक, राजनीतिक, खेलकूद, मनोरंजक, शैक्षणिक, सांस्कृतिक व धार्मिक समारोह एवं अन्य बड़े समागम पर रोक रहेगी। कोविड 19 के प्रबंधन के लिए सभी संबंधित पदाधिकारी को अनिवार्य रूप से करने को कहा गया है। सभी सार्वजनिक स्थलों व कार्य स्थलों एवं यात्रा के समय पर फेस कवर या मास्क लगाना अनिवार्य होगा। सभी व्यक्ति को सार्वजनिक स्थल पर सोशल डिस्टेंसिंग के अनुपालन के लिए आपस में कम से कम 6 फीट की दूरी का अनिवार्य रूप से पालन करना होगा।

सभी बड़े सार्वजनिक सभा, सम्मेलन व जमावड़े पर पूर्व की भांति रोक जारी रहेगी। विवाह समारोह में मेहमानों की संख्या 50 से अधिक नहीं होगी। अंतिम संस्कार समारोह में  शामिल होने वाले लोगों की संख्या 20 से अधिक नहीं होगी। सार्वजनिक स्थलों पर थूकना दंडनीय अपराध होगा तथा जुर्माना भी वसूल किया जाएगा।  सार्वजनिक स्थलों पर शराब, पान, गुटखा व तंबाकू आदि का सेवन पूर्णतया वर्जित रहेगा। 

  • आवागमन के लिए कोई भी अनुमति और ई-पास की आवश्यकता नहीं

30 जून तक कंटेनमेंट जोन में लॉकडाउन लागू रहेगा। कंटेनमेंट जोन में मात्र अनिवार्य सेवा को ही अनुमति दी जाएगी। पूरे क्षेत्र की घेराबंदी कर मात्र चिकित्सकीय कार्य अथवा अनिवार्य वस्तुओं व सेवाओं की आपूर्ति के लिए आने जाने की अनुमति होगी। कंटेनमेंट जोन के बाहर बफर जोन भी चिन्हित किया जाएगा। जहां नए मामलों के आने की संभावना हो तथा वहां जिला प्रशासन की ओर से समय-समय पर आदेश निर्गत कर आवश्यक विनियमन जारी किया जाएगा।

व्यक्तियों तथा सामान की आवाजाही पर कोई रोक नहीं रहेगी तथा अंतरराज्यीय एवं राज्य के अंदर आवागमन के लिए कोई भी अनुमति व ई-पास की आवश्यकता नहीं होगी। 65 वर्ष के ऊपर के व्यक्ति, घातक रोग से संक्रमित व्यक्ति, गर्भवती महिलाएं एवं 10 वर्ष के नीचे के बच्चों को घर पर रहने की सलाह दी गई है।

  • रात 9 से सुबह 5 बजे तक कर्फ्यू रहेगा

प्रारंभ की गई गतिविधियां प्रतिदिन संध्या 9 बजे तक संचालित हो सकेगी तथा रात 9 बजे से प्रात 5 बजे तक रात्रि में कर्फ्यू लागू रहेगा। सिटी एसपी योगेन्द्र कुमार ने लॉक डाउन 5.0 में सरकार के सभी निर्देशों का कड़ाई से अनुपालन कराने का निर्देश सभी एसडीपीओ एवं एसएचओ को दिया। बैठक में डीएम, डीडीसी, प्रशिक्षु आईएएस, सभी जिला स्तरीय पदाधिकारी, एसडीओ, एसडीपीओ, बीडीओ, एमओआईसी, सीओ, एसएचओ, ग्राम पंचायत मुखिया मौजूद थे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना