पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मिथिला में शोक की लहर:DMCH के जाने-माने फिजिशियन पद्मश्री डॉ मोहन मिश्र का निधन, कालाजार पर शोध के लिए मिला था सम्मान

दरभंगा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
डॉ मोहन मिश्र को 2014 में राष्ट्रपति की ओर से पद्मश्री से सम्मानित किया गया था। - Dainik Bhaskar
डॉ मोहन मिश्र को 2014 में राष्ट्रपति की ओर से पद्मश्री से सम्मानित किया गया था।

दरभंगा मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल के मेडिसिन विभाग के अध्यक्ष रहे ख्यातिप्राप्त फिजिशियन डॉ मोहन मिश्र का निधन हो गया। उन्होंने गुरुवार की रात लहेरियासराय स्थित आवास पर अंतिम सांस ली। ह्रदय गति रूक जाने से उनका निधन हो गया। पिछले चार पांच दिनों से वे गंभीर रूप से बीमार चल रहे थे। घर पर ही इलाज हो रहा था। उनका अंतिम संस्कार मधुबनी जिले में उनके पैतृक गांव कोइलख में हुआ।

कालाजार पर शोध के लिए उन्हें 2014 में पद्मश्री से सम्मानित किया गया था। उनका जन्म 19 मई 1937 को कोइलख में हुआ था। वर्ष 1962 में दरभंगा मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल में रेजिडेंट मेडिकल ऑफिसर के रूप में उन्होंने अपना कैरियर शुरू किया, जहां वे 1995 तक रहे। 1979 में जनरल मेडिसिन विभाग के प्रोफेसर बन गए।

1984 में उन्होंने एक और उच्च डिग्री एडिनबरा से प्राप्त की। दो साल बाद 1986 में वे DMCH में जनरल मेडिसिन विभाग के प्रमुख बने। 1988 में लंदन से FRCP भी हासिल किया। 1995 में वे सेवानिवृत्त हुए, लेकिन अंतिम समय तक मरीजों का इलाज करते रहे।

खबरें और भी हैं...